5G क्या है.
5g Technology
Contents hide
2 5G क्या है. 5G Technology In India.
2.4 5g मोबाईल फोन.5g Smartphones In India :

5G क्या है. G Technology In India 

5G क्या है. 5G Technology In India आने वाले समय यानी 2021 से 2022 तक डिजिटल दुनिया या 5g Wireless Technology नया दौर शुरू होने वाला है.

जब से 4G आया है भारत की डिजिटल दुनिया में बहुत बड़ा अंतर आया है.लेकिन फिर भी इसकी कुछ सीमाओं के कारण हमें और भी तेज इंटरनेट की जरूरत है,जो की आने वाले समय में जल्द ही शुरू हो सकता है.

इससे पहले की आप 5G के बारे में जाने हम आपका परिचय 1G,2G,3G,4G से करा देते हैं.

1G Technology.

ये बिना तार के होने वाले संचार की पहली पीढ़ी की तकनीक थी.इसे 1979 मे विकसित किया गया था.इसमे संचार के लिए Analog रेडियो सिग्नल तकनीक का इस्तेमाल होता था.

2G Technology.

ये संचार तकनीक की दूसरी पीढ़ी की तकनीक थी.इसे पहली बार 1991 मे शुरू किया गया.इसमे खास बात यह थी की यह डिजिटल रेडियो सिग्नल की टेकनोलॉजी पर काम करता था.और इसकी गति 14.4kb/s होती थी.

इसके बाद 2.5g और 2.75G भी आया जो की क्रमशः GPRS और EDGE नेटवर्क पर काम करता था.

3G Technology.

ये डिजिटल नेटवर्क की तीसरी पीढ़ी की तकनीक है.इसे भारत में पहली बार 2008 मे MTNL कंपनी द्वारा शुरू किया गया.इसके बाद 2009 में अन्य कंपनीयों ने भी 3G की सेवा देनी शुरू कर दी.

इसके आने से नेटवर्क की दुनिया में काफी बदलाव आया.इसकी डाटा Transfer करने की गति 144kb/s थी.इसके आने से मोबाईल विडिओ कॉल,मोबाईल पर टीवी देखना और इंटरनेट के जरिए कॉल करना संभव और आसान हुआ.

4G Technology.

यह डिजिटल नेटवर्क की चौथी पीढ़ी का की तकनीक है.इसे भारत में सबसे पहले 2010 में Airtel द्वारा लॉन्च किया गया था.एयरटेल 4g की सेवाएं उस समय सिर्फ कुछ ही शहरों महाराष्ट्र ,गोवा,पंजाब और कलकत्ता में उपलब्ध थीं.

इसके बाद 2016 में जिओ ने पूरे भारत में jio 4G की सेवाएं देनी शुरू की.कुछ महीनों तक मुफ़्त कॉल और डाटा भी दिया.जिसकी वजह से jio के Cstomer की संख्या में काफी बढ़ोत्तरी हुई.

यह VOLTE(Voice Over Long Term Evolution) टेक्नॉलजी पर आधारित है.

जब ये आया था तो औसतन इसकी डाटा Transfer करने की क्षमता लगभग 1 से 4mb/s थी.इसके आने से सभी को डिजिटल दुनिया से जुडने का मौका मिला क्योंकि इसकी लागत कम थी.

5G क्या है. 5G Technology In India.

5G Technology In India वैसे ये तकनीक अभी विकसित की जा रही है.इस लेख में हम इसी के बारे में बात करेंगे की 5G की Speed,Technology,और Price भारत में क्या हो सकती है और कब तक इसके आने की उम्मीद है.

भारत मे 5g तकनीक.5g technology in India :

5G Technology In India भारत में 2021 या 2022 तक 5g के आने की संभावना है.

जिसकी अधिकतम स्पीड 10gb/s होने वाली है.इसमें कौन सी Technologies का इस्तेमाल होने वाला है जिससे की इसकी गति अधिक होगी.

यदि आप विज्ञान में रुचि रखते हैं तो आपको जरूर पता होगा और  यदि नहीं पता है तो कोई बात नहीं आप इसे पढ़कर जान लेंगे.

5g में इस्तेमाल होने वाली तकनीकें :

High-Frequency Radio Waves.

5G क्या है.5G Technology इस तकनीक में अधिक Frequency वाली रेडियो तरंगों का इस्तेमाल होने वाला है.जो की Data Transfer करने की स्पीड को काफी हद तक बढ़ा सकता है.

हालांकि इसे इस्तेमाल करने में एक समस्या ये है की ये तरंगें अधिक दूरी तक नहीं जा सकतीं.

इनके सामने यदि कोई बिल्डिंग या अन्य रुकावट की चीज आ जाए तो इन्हें आगे पहुँचने में बाधा होगी.इस समस्या का समाधान खोजने के लिए Small Antenna का इस्तेमाल किया जाएगा.

➡ Optical Fibre क्या है.

Small Antenna.

5G Technology In India, 5g में इस्तेमाल होने High Frequency Radio Waves दूर तक नहीं जा सकतीं.

इसलिए हर जगह छोटे-छोटे Tower लगाने पड़ेंगे.ये Tower इतने बड़े नहीं होंगे जितने की आज इस्तेमाल होते हैं.ये छोटे से Antenna की तरह होंगे जिनको कहीं भी लगाया जा सकेगा जैसे की बिजली के खंभों या छत पर.

Massive MIMO.

यहाँ Mimo का फूल फॉर्म है Multiple Input Multiple Output अऊर Massive मतलब बहुत सारे.इसका मतलब है इसमें कई सारे Antenna Ports लगे होंगे जहां 4g में 12 orts होते हैं इसमें 100 ports होंगे.

कई सारे Ports होने की वजह से कई सारे सिग्नल एक दूसरे से मिलने के बाद Interference उत्पन्न करेंगे.

Interference का मतलब होता है की तरंगें आपस मे एक दूसरे से लड़ेंगी और एक दूसरे को प्रभावित करेंगी.लेकिन इस समस्या के लिए एक और तकनीक का इस्तेमाल किया जाएगा जिसका नाम है Beamforming.

Beamforming.

कई सारे Ports होने की वजह से Interference उत्पन्न होगा जिससे बचने के लिए इसका इस्तेमाल किया जाएगा.ये बीम यानि तरंगों को एक रास्ता दिखाएगा और उसकी सही जगह तक पहुँचने में मदद करेगा.

तो ये रहीं 5g में इस्तेमाल होने वाली मुख्य Technology.जिसकी मदद से 5g को विकसित किया जाएगा.

भारत मे 5g कॉम्पनियाँ.5g Network companies in India :

5G Technology In India भारत में 5g पर काम करने वाली मुख्यतः तीन कंपनियां हैं

jio,Airtel और Vodafone idea Companies Working on 5g Technology In India.

Jio :

Jio ने इस तकनीक के लिए सभी तैयारियां कर ली हैं.स्पेक्ट्रम मिलने की बाद इसकी टेस्टिंग शुरू होगी।

Airtel :

एयरटेल ने Huawei,ZTE,Ericsson,और Nokia के साथ टेस्टिंग करेगा.वो बात अलग है की बाद में भारत सरकार चीन की कंपनियों को अनुमति देती है या नहीं.

Vodafone idea :

वोडाफोन भी 5g की तकनीक के लिए एयरटेल की तरह ही प्रयासरत है.स्पेक्ट्रम मिलते ही इसकी टेस्टिंग शुरू कर देंगे.

5g मोबाईल फोन.5g Smartphones In India :

भले ही 5g अभी इंडिया में नहीं आया है लेकिन 5g Mobile बाजार में पहले से ही उपलब्ध हैं.इसके साथ ही आने वाले समय में और भी 5g स्मार्टफोन बनेंगे.

इस समय उपलब्ध 5g स्मार्टफोन :

1) Samsung Galaxy Note 20 Ultra 5G.सैमसंग का ये स्मार्टफोन 5g Technology से लैस है.इसमे 12 gb Ram,256 gb Internal Storage और 4500 mAH की Battery मिलती है.इसका दाम 100000 से ऊपर  है.
2) OPPO Find X2.इसमे 12 gb Ram,256 gb Storage,4260 mAH की Battery है.भारत में इसकी Price लगभग 65000 के आस-पास है.
3) Xiaomi Mi 10 5G.इसमे 8 gb Ram,128 gb Storage और 4700 mAh की बैटरी है.इसकी कीमत      लगभग 50000 के आस-पास है.
4) Samsung Galaxy S20 Ultra.इसमे 12 gb ram,128 gb स्टॉरिज और 5000  mAh की बैटरी है.इसकी कीमत लगभग 97000 के आस-पास है.हालांकि इसका भारतीय वर्ज़न 5g नहीं है लेकिन विदेशों में इसका 5g वर्ज़न चल रहा है.
ये तो इस समय उपलब्ध 5g स्मार्टफोन हैं.लेकिन आने वाले समय में कई कंपनियां नए 5g स्मार्टफोन बनाने में लगी हुई हैं.

भारत में 5g का स्कोप.Scope of 5g in India :

तेज इंटरनेट स्पीड की आवश्यकता किसे नहीं हैं,हर कोई चाहता है की पूरी मूवी बस कुछ ही सेकंड में डाउनलोड हो जाए.इसलिए 5g का स्कोप भारत में बहुत ही अच्छा रहने वाला है.5g की तेज इंटरनेट स्पीड का इस्तेमाल हर क्षेत्र में होने वाला है जैसे की

    • शिक्षा(Education),
    • मीटिंग(Meeting),
    • विडिओ गेम्स(Video Games),
    • हेल्थ और बहुत सारी चीजें.

इसलिए इस बात में कोई शक नहीं की भारत में 5g का स्कोप बहुत ही बढ़िया रहने वाला है.

5g की उपयोगिता.Benefits of 5g :

5g के तेज गति के कारण कोई भी जानकारी तुरंत साझा की जा सकेगी.इसी की वजह से दुनिया में एक बहुत बड़ा बदलाव आएगा. उदाहरण के तौर पर कुछ नीचे दिए गए है.

शिक्षा के क्षेत्र में:

इसकी तेज स्पीड के चलते शिक्षा में बड़ा बदलाव आ सकता है यदि शिक्षण संस्थान इसे अपनाते हैं तो बच्चे अपने घर से ही विडिओ क्लास के जरिए पढ़ाई कर सकेंगे.

वाहन:

5g के आने से आप बिना ड्राइवर के भी गाड़ी भेज सकेंगे।ये बेहद ही अचरज भरा बदलाव होगा लेकिन ये सच है आप घर बैठे अपनी गाड़ी को कंट्रोल कर पाएंगे.

स्वास्थ्य के क्षेत्र में:

यदि कोई डॉक्टर दूर बैठे किसी मरीज का ऑपरेशन करना चाहता है तो ये भी मशीनों और 5g की मदद से संभव होगा.मरीज के पास कोई मशीन होगी और डॉक्टर दूर बैठे ही उसे चला पाएगा,यानि की यदि डॉक्टर को किसी मरीज का ऑपरेशन करना है तो वो दूर बैठे ही कर देगा.

Virtual reality:

आज हम जिस तरह से वर्चुअल यानि नकली दुनिया की तरफ आकर्षित हो रहे हैं 5g के आने ये और भी बढ़ जाएगा और कई तरह की technology और मशीनों के जरिए हम पूरी तरह से नकली दुनिया से घिरे होंगे.

5g Sim in India :2021

5G Technology क्या है.5g सिम अभी तो भारत में उपलब्ध नहीं है क्योंकि जब नेटवर्क ही नहीं है तो सिम का कोई क्या करेगा लेकिन जैसा की उम्मीद है 2021 से 2022 तक 5g आ जाएगा.

और इसके साथ सिम भी तभी आएगा क्योंकि अभी आने का कोई फायदा नहीं है.इसका अपडेट पाने के लिए आप हमारे आर्टिकल नियमित रूप से पढ़ते रहें.

5g Network Companies In India :

भारत में 5g आने के बाद इन कंपनियों के नेटवर्क मिलने की उम्मीद है.

    1. Jio.
    2. Airtel.
    3. Vodafone Idea.
    4. BSNL.

Jio 5g in India.

Jio ने 5g को लेकर 2019 में ही घोषणा कर दी थी की जल्द ही वो 5g की टेस्टिंग शुरू कर सकते हैं.इसके लिए सरकार से स्पेक्ट्रम मिलने की देरी है जो की मार्च 2020 में मिलने वाली थी लेकिन कोरोना या अन्य कारण से ऐसा नहीं हो पाया.अब ये उम्मीद है की 5g टेस्टिंग के लिए स्पेक्ट्रम सितम्बर 2020 से मिल जाएगी.

Jio ने 5g के लिए पूरी तरह से कमर कस ली है और हो सकता है की 4g की तरह इसमे भी ये सभी को मात दे जाए.

Jio 5g price.

जब 2016 में jio ने लोगों को मुफ़्त इंटरनेट और कॉल की सुविधा दी तब लोगों ने छः महीने तक मुफ़्त सेवा का लाभ खूब उठाया.लेकिन 5g पर एक सवाल उठता है की क्या ये भी 4g की तरह सस्ता होगा? हो सकता है.जी हाँ ये बिल्कुल संभव है की 5g भी 4g की तरह ही सस्ता हो लेकिन इस बात की पूरी गारंटी नहीं दी जा सकती है ये सरकार और इंटरनेट सर्विस provider पर निर्भर करेगा.

4g और 5g मे अंतर.5g vs 4g :

4G 5G
  1. 4g की अधिकतम स्पीड 1gb/s
  1. 5g की अधिकतम स्पीड 10 gb/s हो सकती है.
2. 4g के लिए एक बड़ा सा tower लगाना पड़ता है 2. 5g के लिए हर 250 मीटर पर छोटे-छोटे antenna लगाने पड़ेंगे.
3. 4g से एक high definition की मूवी डाउनलोड        करने मे 3 से 4 मिनट लगते है 3. 5g से ये कुछ सेकंड में डाउनलोड हो जाएगा.
4. 4g की latency50 ms है जिससे लाइव कंटेन्ट          यूजर तक पहुँचने में थोड़ा सा वक्त लगता है 4. 5g मे latency सिर्फ 1ms की होगी इसका मतलब      जो भी लाइव विडिओ किया जाएगा वो तुरंत यूजर के      पास पहुंचेगा.

 

निष्कर्ष (Conclusion) :

5G क्या है. सब कुछ मिलाकर यदि कुछ शब्दों में 5g के आने से आए बदलाव को बताना हो तो वो ये होगा की पूरी की पूरी दुनिया ही बदल जाएगी और विज्ञान की तकनीक का असली नमूना देखने को मिलेगा.

5g के आने से लोगों की Virtual यानि नकली दुनिया की तरफ जो रुझान है वो और बढ़ जाएगा और लोगों को गेम्स खेलने में और भी मज़ा आएगा.5g के आने से इतना कुछ बदल सकता जितना की आपने फिल्मी दुनिया में देखी हो.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here