Black Fungus Kya Hai

Black Fungus Kya Hai, भारत में कोरोना वायरस संक्रमण की दूसरी लहर के बाद अब लोगों पर Mucormycosis का खतरा मंडरा रहा है, देश में कुछ राज्यों के कई Covid 19 Patients इस बिमारी का शिकार हो रहे है| 

Indian Council of Medical Research के मुताबिक़ ब्लैक फंगस बिमारी शरीर में काफी तेजी से फैलती है और कई अंगो को प्रभावित करती है|

इस आर्टिकल में हम आपको Black Fungus Symptoms, इसके फैलने की वजह और बचाव के तरीकों के साथ Mucormycosis के बारे में पूरी जानकारी बता रहे है| तो पूरा आर्टिकल जरुर पढियेगा|

Black Fungus Kya Hai? – What is Black Fungus Disease

Black Fungus एक इन्फेक्शन से जुडी बिमारी है, ये दुर्लभ और खतरनाक Fungus Infection mucormycetes नाम के Fungus द्वारा फैलता है, जिसके स्पोर्स या बीजाण वातावरण में प्राकृतिक रूप से पहले से ही मौजूद होते है| 

आम तौर पर mucormycetes से कोई ख़तरा नहीं होता, लेकिन जिन लोगों की Immunity Power कमजोर है, उनके लिए ये बिमारी जानलेवा बन सकती है|

दरअसल हवा और मिटटी में पहले से ही मौजूद Black Fungus के Particles नाक में घुसते है, फिर वहां से होकर फेफड़ों में जाते है, जिसके बाद वो खून के साथ मस्तिष्क में पहुंच जाते है| नाक के जरिये शरीर में घुसे ब्लैक फंगस का इन्फेक्शन साइनस और आँखों तक पहुँच जाता है|

अभी के समय में Mucormycosis बीमारी मुख्य रूप से Covid या Post Covid Patients को अपना शिकार बना रही है. 

हालाकि Black Fungus in India में उन मरीजों को ज्यादा हो रहा है जिन्हें Covid 19 से पहले Diabetes जैसी कोई बड़ी हेल्थ प्रॉब्लम थी, या Covid से संक्रमित होने के बाद जिनकी Immunity काफी ज्यादा कमजोर हो जाती है|

कुछ डॉक्टर्स का कहना है की Diabetes शरीर के Immune defenses को कमजोर करती है, और Covid 19 ट्रीटमेंट के दौरान दिए गए Steroids की वजह से Black Fungus का ख़तरा काफी बढ़ जाता है|

म्यूकर माइकोसिस साइनस, आँखों, दिमाग, त्वचा और फेंफड़ो पर हमला कर सकता है, और समय रहते इसका इलाज ना किया जाए तो मरीज की जान भी जा सकती है| इसीलिए अगर किसीको भी Black Fungus के symptoms दिखे तो तुरंत चिकित्सक से संपर्क करना चाहिए|

मजबूत प्रतिरक्षा शक्तिवालों को कुछ ख़ास ख़तरा नहीं

Black Fungus के Particles हवा और मिटटी में हमेशा मौजूद रहते ही है, लेकिन mucormycetes fungus का असर उन्ही लोगों पर ज्यादा दिखाई देता है, जिनकी Immunity Power कमजोर होती है| मजबूत प्रतिरक्षा शक्ति वाले लोगों को आम तौर पर इस बिमारी से कोई ख़ास ख़तरा नहीं है|

Mucormycosis नाम से जानी जाती थी यह बीमारी

Black Fungus in India कोई नया रोग नहीं है, mucor mycetes नाम के फंगस की वजह से फैलने वाली यह बीमारी पहले भी Aids और Cancer के मरीजों में पायी जाती थी| जिसे जाइगो माइकोसिस नाम से जाना जाता था|



क्यों ख़तरनाक है म्यूकर माइकोसिस?

फोर्टिस फरीदाबाद की कंसलटेंट और ENT, डॉक्टर अर्पणा महाजन के मुताबिक Black Fungus कैंसर की तरह व्यवहार करता है. 

लेकिन जहां कैंसर जैसी बीमारी को जानलेवा प्रभाव पैदा करने में कुछ महीनों का समय लगता है, वहां सही समय पर इलाज ना करने पर ब्लैक फंगस से मरीज की जान कुछ दिनों या कुछ घंटों तक में जा सकती है, इसलिए यह फंगस काफी खतरनाक है|

Black Fungus in Covid Patients – तीन प्रमुख कारण

कुछ एक्सपर्ट्स के मुताबिक़ Black Fungus बीमारी होने का ख़तरा होने के तीन प्रमुख कारण है, जिनमे से

पहला है कोरोना – पहले से ही कुछ बिमारियों से पीड़ित Corona Patients के शरीर में Immunity Power काफी कम हो जाती है और उनका शरीर बाहरी इन्फेक्शन्स से मुकाबला नहीं कर पाता| 

दूसरा है डायबिटीज – मधुमेह के मरीजों पर इस बीमारी का ख़तरा दोगुना होता है| 

तीसरा है Steroids का ज्यादा इस्तेमाल – इससे भी शरीर की Immunity Power प्रभावित होती है|

म्यूकर माइकोसिसके लक्षण – Black Fungus Symptoms

Black Fungus Kya Hai जानने के बाद इस बीमारी के लक्षण जानना बेहद जरूरी है, तो आइये जानते है Black Fungus Symptoms in Hindi

  • नाक या आँखों के आसपास दर्द होना
  • आँखों में दर्द होना या धुंधला दिखाई देना
  • नाक और आँखों के आसपास लाल निशान होना
  • बुखार आना
  • तेज सिर दर्द होना
  • खून की उल्टी होना
  • नाक से खून आना
  • नाक से काले रंग के म्यूकस का डिस्चार्ज होना
  • मानसिक स्थिति बदलना, भ्रम होना
  • गालों और आँखों में सूजन आना
  • दांतों में दर्द होना या दांत ढीले होना
  • खांसी और हांफना या सांस की तकलीफ होना
  • चेहरे की विकृति होना
  • एक तरफ़ा चेहरे का दर्द या सूजन होना

Black Fungus Symptoms in Hindi जानने के बाद आइये जानते है Covid 19  Patients को Black Fungus से बचने के लिए क्या करना चाहिए और क्या नहीं करना चाहिए|

Do’s and don’ts for Black Fungus – Covid 19  Patients

Do’s – क्या करें?

  • Hyperglycemia (High Blood Sugar) को नियंत्रित करें|
  • Diabetes और Post Covid 19 पेशेंट में Blood Glucose Level को Monitor करें|
  • Steroids का उपयोग विवेकपूर्ण तरीके से करें – सही समय, खुराक और अवधि का ध्यान रखें|
  • Antibiotics और antifungals का उपयोग विवेकपूर्ण तरीके से करें|
  • ऑक्सीजन थेरेपी के दौरान उबले हुए साफ़ पानी का इस्तेमाल करें|

Don’ts – क्या न करें?

  • Black Fungus Infection के Signs और Symptoms को Avoid ना करें, अगर ये इन्फेक्शन दिमाग तक पहुँच जाए तो बहुत खतरनाक हो सकता है|
  • म्यूकर माइकोसिस का उपचार शुरू करने में बिलकुल भी देरी ना करें|

सावधानियां – Precautions

  • अस्पताल और एम्बुलेंस में नया ऑक्सीजन मास्क लगाए|
  • किसी के द्वारा उपयोग किया गया मास्क भूल से भी ना लगाए|
  • डॉक्टर से बात करके डायबिटीज के मरीजों को एंटीफंगल दवा शुरू करवा दें|
  • डायबिटीज को नियंत्रित रखें|
  • Post Covid Patient को अपने ब्लड शुगर पर कड़ी निगरानी रखनी चाहिए|
  • स्टेरॉयड का इस्तेमाल डॉक्टर के बताए गए तरीके से सही समय पर, सही मात्रा में ही करें|
  • घर से बाहर निकलें तो मास्क का प्रयोग करना ना भूलें|
  • फंगस के कण चिपके ना रहे उसके लिए शरीर पर धूल या मिटटी लगे तो साफ़ करके नहाए|
  • Scrub Bath और Regular Cleaning से Personal Hygiene को Maintain कीजिये|
  • Self-medication और स्टेरॉयड के Over Dosage के परिणाम स्वरूप Fatal Events हो सकते है, इसीलिए Doctors के Prescription को Strictly Follow करना चाहिए| 

ब्लैक फंगस का इलाज – Black Fungus Treatment in India

Black Fungus Infection त्वचा से शुरू होने के साथ शरीर के कई अन्य भागों तक फ़ैल सकता है|

म्यूकर माइकोसिस के उपचार में 4 से 6 सप्ताह की antifungal therapy का कोर्स शामिल हो सकता है| 

क्योंकि ये शरीर के कई भागों पर प्रभाव डालता है, इस वजह से उपचार के लिए microbiologists की team, internal medicine के specialists, ENT specialists, intensivist neurologists, ophthalmologists, dentists, surgeons और कई डॉक्टर्स आवश्यकता होती है|

Doctors का कहना है की Black Fungus की ट्रीटमेंट के दौरान डायबिटीज को कंट्रोल करना, स्टेरॉयड का इस्तेमाल कम करना और immunomodulating drugs का इस्तेमाल कम करना बेहद जरूरी है|

Treatment में Black Fungus द्वारा ज्यादा Tissue Infect होने से Surgically Infected Tissues को Remove करना भी शामिल है, कुछ रोगियों में इस ट्रीटमेंट से upper jaw और आँख भी हानि हो सकती है|

Experts ने Black Fungus से बचने के लिए Covid 19 Patients (Especially Diabetic Patients) के इलाज के दौरान और ठीक होकर डिस्चार्ज होने के बाद भी Blood Glucose Level को Monitor करने और hyperglycemia को कंट्रोल करने की सलाह दी है| 

इसके अलावा स्टेरॉयड का इस्तेमाल विवेकपूर्ण तरीके से करना चाहिए, जिसके लिए डॉक्टर द्वारा बताई correct timing, correct dose और duration महत्वपूर्ण है|

निष्कर्ष – Conclusion

उम्मीद करते है इस आर्टिकल में आपको Black Fungus Kya Hai, Black Fungus Symptoms in Hindi, Do’s and Don’ts और Black Fungus Treatment के बारें में महत्वपूर्ण जानकारी मिल गयी होगी|

अगर आपको इस बीमारी और इसके Symptoms को लेकर थोडा सा भी doubt हो रहा है तो जल्दी से बिना देरी किये चिकित्सक से संपर्क कीजिये|

आखिर में बस आपसे एक गुजारिश है की इस आर्टिकल को अपने सभी Social Media Handles पर शेयर करके अन्य लोगों को भी Black Fungus in India बिमारी के बारें में जागरूक करने का एक छोटा सा कदम उठाइये, और ऐसे ही जानकारी से भरपूर Articles पढ़ते रहने के लिए techbagz पर विजिट करते रहिएगा, धन्यवाद|

ये भी पड़े :

Oxygen Concentrator Kya Hai

Data टाइप क्या हैं.Data Type In Hindi

Oxygen Flow Meter Kya Hai.

1 COMMENT

  1. Sir, thank you very much for your valuable and meaningful article. This article is very exellent and awesome. I am your regular visitor and I always like and share your articles to my friends and your website is awesome.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here