C Language क्या है
प्रोग्रामिंग भाषा सी–C Language In Hindi

C Language क्या है.आज के बढ़ते तकनीक की दुनिया में कंप्युटर का भी काफी महत्वपूर्ण योगदान है। ऐसे में आजकल के क्षात्र कंप्युटर से संबंधित कोर्स में काफी दिलचस्पी रखते हैं। वैसे तो कंप्युटर में बहुत सारे कोर्स उपलब्ध हैं लेकिन आज हम सी-प्रोग्रामिंग भाषा के बारे में बात करने वाले हैं।

सी-प्रोग्रामिंग भाषा क्या होती है और इसे कौन से लोग सीख सकते हैं?इसके साथ अगर आप ये कोर्स करते हैं तो आपको क्या फायदे मिलने वाले हैं ये सारी जानकारी आपको इस लेख में मिलेगी। सी-प्रोग्रामिंग भाषा सीखने के बाद आपका करिअर कैसा होगा ये भी आप जान सकेंगे।

सी-प्रोग्रामिंग-What Is C Language

C Language क्या है.सी-प्रोग्रामिंग भाषा साधारण इस्तेमाल के लिए बनाई गई एक प्रक्रियात्मक कंप्युटर प्रोग्रामिंग  भाषा है।

इसे डेनिस-एम रिची द्वारा बेल टेलीफोन लेबोरेटरी में यूनिक्स ऑपरेटिंग सिस्टम को विकसित करने के दौरान 1972 से 1973 के बीच विकसित किया गया था।ये काफी आसान और मशहूर प्रोग्रामिंग भाषा है जिसका इस्तेमाल कंप्युटर प्रोग्रामर द्वारा काफी अधिक होता है।

पहले तो इसे यूनिक्स ऑपरेटिंग सिस्टम के लिए विकसित किया गया लेकिन 1980 के करीब ये काफी मशहूर होने लगा और उस समय का सबसे अधिक इस्तेमाल होने वाले प्रोग्रामिंग भाषा में से एक ये भी बन गया।

1989 में इसे अमेरिकन स्टैन्डर्ड इंस्टिट्यूट(ANSI) द्वारा मान्यता दि गई। उसके बाद (ISO) international organization for standardization द्वारा भी इसे मान्यता मिली और आज के समय में ये इस्तेमाल होने वाला काफी मशहूर प्रोग्रामिंग भाषा बन चुका है।

इतिहास-History 

C Language क्या है.सी प्रोग्रामिंग भाषा का विकास यूनिक्स ऑपरेटिंग सिस्टम को विकसित करने के काफी करीब है।डेनिस रिची और केन थॉमप्सन द्वारा यूनिक्स ऑपरेटिंग सिस्टम को विकसित करने के समय उन्होंने इसे भी बनाया। इन लोगों ने अपने अन्य साथियों से भी इसके बारे में सुझाव लिया।

इसके पहले की प्रोग्रामिंग भाषा B थी जो की एक असेंबली लैंग्वेज थी। 1972 में रिची ने इसे और बढ़िया करने की कोशिश की और इसी के दौरान सी लैंग्वेज का विकास हुआ।

यूनिक्स ऑपरेटिंग सिस्टम उसी समय विकसित हुआ और ये पहला ऑपरेटिंग सिस्टम था जो असेंबली के अलावा अन्य भाषा में बना था।

इसके बाद 1978 में Brian Kernighan और Dennis Ritchie ने मिलकर सी प्रोग्रामिंग भाषा के ऊपर एक किताब निकली। इस किताब को K&R नाम से जाना जाता था। काफी दिनों बाद इस किताब को ANSI द्वारा मानकीकृत किया गया।

ANSI और ISO द्वारा मानकीकरण-Standardization Of ‘C’

C Language क्या है.1980 के दशक में सी भाषा का प्रयोग कई तरह के कंप्युटर में किया जाने लगा। 1983 में ANSI ने सी भाषा के स्टैन्डर्ड की विशेषता निश्चित करने के लिए एक कमेटी बनाई जिसका नाम रखा गया X3J11.

1989 में इस संस्था ने सी भाषा के स्टैन्डर्ड की  ANSI X3.159-1989 के रूप में पुष्टि की और इसे सी प्रोग्रामिंग भाषा के नाम पर मानकीकृत किया गया। सी भाषा के इसी वर्ज़न को ANSI C या C89 के नाम से भी जाना जाता है।

उसके बाद 1990 में सी भाषा को ISO यानि  International Organization for Standardization द्वारा मानकीकृत किया गया और इसे सी90 के नाम से जाना जाने लगा।

इसके बाद इसका यही स्टैन्डर्ड कई सालों तक बरकरार रहा और फिर 1995 में इसमें कुछ सुधार कीये गए।

    •  C99

ये सी भाषा का नया वर्ज़न था जो सी90 के बाद आया था। इसे आईएसओ के औपचारिक भाषा में ISO/IEC 9899:1999 नाम दिया गया था। लेकिन आम जनता में इसे सी99 के नाम से ही जाना जाता है। इस वर्ज़न में कई नए फीचर्स जोड़े गए जैसे की कई तरह के नए डाटा टाइप ,इनलाइन फंगक्शन आदि।

    • C11

अनौपचारिक रूप से इस वर्ज़न का इस्तेमाल 2007 से ही होने लगा लेकिन औपचारिक रूप से इसे 2011 में प्रकाशित किया गया।

उस समय इसके कई सारे फीचर्स पर रोक लग गया जिनको उस समय के नियम के हिसाब से टेस्ट नहीं किया गया था।इसमें बहुत सारे नए फीचर्स जोड़े गए थे।

    • C17

इस समय सी भाषा का सी17 वर्ज़न चल रहा है इसे औपचारिक रूप से 2018 में प्रकाशित किया गया था।इसमें किसी भी तरह का नया फीचर नहीं जोड़ा गया लेकिन इसके पीछे वर्ज़न में जो भी कमियाँ थीं उनमें सुधार किया गया।

अगला सी भाषा का वर्ज़न शायद 2021 में देखने को मिल सकता है।

इस्तेमाल-Use Of C Language

C Language क्या है.जैसा की हम सब जानते हैं सी एक प्रोग्रामिंग भाषा है जिसका इस्तेमाल कंप्युटर में प्रोग्राम बनाते समय कोड लिखने के काम आता है।लेकिन इसका इस्तेमाल कई तरह के चीजें विकसित करने के लिए की जाती हैं।

इसका इस्तेमाल किसी भी तरह का सॉफ्टवेयर बनाते समय किया जाता है। इसके अलावा कम्पाइलर बनाने,डेटाबेस विकसित करने,कंप्युटर के लिए ऑपरेटिंग सिस्टम विकसित करने के लिए,मोबाईल के ऑपरेटिंग सिस्टम विकसित करने के लिए और कोई अन्य टूल या प्रोग्राम बनाने के लिए इसका इस्तेमाल किया जाता है।

सिन्टैक्स क्या होता है?C Language Syntax

सी भाषा के उन सभी नियमों का समूह जिसके अंतर्गत इसमें कोड लिखकर प्रोग्राम बनाया जाता है उन्हें सिन्टैक्स कहते हैं। जैसा की हम जानते हैं ये एक प्रोग्रामिंग भाषा है.

जिसमें यदि आपको कोडिंग करनी है तो आपको इस भाषा के नियम और कमांड पता होने चाहिए जो की आपको सिन्टैक्स में पढ़ने को मिल जाएगा। सीनटैक्स के अंतर्गत कुछ निश्चित शब्द,ऑपरेटर, चिन्ह और अन्य चीजें आती हैं जिन्हें याद करना होता है।

➡ सॉफ्टवेयर डेवलपर-Software Developer

सी प्रोग्रामिंग भाषा की विशेषताएं-Features Of C Languarge

जैसे हर प्रोग्रामिंग भाषा की अपनी खूबी और कमियाँ होती हैं वैसे ही सी भाषा की भी कुछ खासीयत है। चलिए उन सभी के बारे में एक-एक करके जानते हैं-

    • सी प्रोग्रामिंग काफी तेज है और इसे सीखने या इसपर काम करने के लिए थोड़े कम गुणवत्ता वाले हार्डवेयर के कंप्युटर भी चल सकेंगे।अन्य प्रोग्रामिंग भाषा इससे अधिक सुविधा देते हैं लेकिन उनका प्रोसेसिंग इतना जल्दी नहीं होता है।
    • इसका इस्तेमाल बहुत सारे काम में आता है जैसे की ऑपरेटिंग सिस्टम और डेटाबेस के लिए। विंडो,लिनक्स,एंड्रॉयड,ios और अन्य ऑपरेटिंग सिस्टम में इसका इस्तेमाल किया जाता है। यदि डेटाबेस की बात करें तो ये postgresql ,my sql ,oracle आदि में इस्तेमाल होता है।
    • इस भाषा में लिखा गया प्रोग्राम किसी अन्य कंप्युटर में डालकर भी चलाया जा सकता है और यदि जरूरत पड़ी तो उसमें बदलाव भी किया जा सकता है।
    • इसमें लिखे प्रोग्राम को और विस्तृत करना काफी आसान होता है। जैसे की मान लीजिए यदि आपने पहले कोई प्रोग्राम बनाया और उसके बाद उसमें कोई नया फीचर जोड़ना चाहते हैं तो सी भाषा में ये काम आपके लिए काफी आसान है।

सी भाषा में करिअर?Career In C Language Course

C Language क्या है.चूंकि सी प्रोग्रामिंग भाषा दुनिया मे सबसे अधिक इस्तेमाल कीये जाने वाले प्रोग्रामिंग भाषाओं में से एक है इसलिए इसमें आपका करिअर काफी अच्छा होगा। ये एक तरह का बेसिक प्रोग्रामिंग भाषा है और इसे सीखना काफी आसान है।जैसा की आप जानते हैं इसका इस्तेमाल ऑपरेटिंग सिस्टम को विकसित करने से लेकर कई सारे प्रोग्राम्स बनाने के काम आता है।

प्रोग्रामिंग की दुनिया में ये हर जगह इस्तेमाल होता है इसलिए आपको इसमें कभी नौकरी ढूँढने में परेशानी नहीं होगी।और भी कई भाषाएं है जो की इससे अधिक फीचर्स देती हैं लेकिन फिर भी इसका जगह नहीं ले सकतीं।लेकिन सिर्फ एक ही भाषा के आधार पर आप अपना करिअर निश्चित नहीं कर सकते।

यदि आपको प्रोग्रामिंग की दुनिया में अपना भविष्य बनाना है तो आपको और भी भाषाएं सीखनी चाहिए ताकी आप कभी बेरोजगार ना हों। प्रोग्रामिंग के लिए आपको अन्य भाषाओं की जरूरत तो है लेकिन सी प्रोग्रामिंग भाषा अपनी एक खास जगह रखता है और इसे हटाया नहीं जा सकता।

सी प्रोग्रामिंग भाषा सीखने के लिए योग्यता? Ability To learn C Programming Language?

सी प्रोग्रामिंग भाषा सीखने के लिए आपको किसी खास योग्यता की जरूरत नहीं।यदि आप थोड़े भी पढे-लिखे हैं या आप एक विद्यार्थी हैं तो इसे सीख सकते हैं।क्योंकि ये बेसिक स्तर का प्रोग्रामिंग भाषा और इसे सीखना आसान है।आजकल तो इसे स्कूलों में भी सिखाया जाता है। सी प्रोग्रामिंग भाषा सीखने के लिए आपको कंप्युटर चलाना आना चाहिये बाकी सब आप सीख सकते हैं।

सी प्रोग्रामिंग भाषा के लिए जरूरी हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर? Hardware And Software Required For C Programming Language?

सी भाषा सीखने के लिए कोई भी पर्सनल कंप्युटर काफी है।आप इसी पर सी प्रोग्रामिंग सीख सकते हैं लेकिन आपके कंप्युटर में सी-कम्पाइलर होना चाहिए। क्योंकि यही सी भाषा में लिखे हुए कोड को मशीन भाषा में बदलता है। सी भाषा सीखने के बाद जब आप प्रोग्राम बनाएंगे तब आपको थोड़े और बढ़िया कंप्युटर लेने की जरूरत पड़ सकती है।

प्रोग्राम को लिखने के लिए नोटपैड या नोटपैड++ जैसे सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल कर सकते हैं।इस भाषा में लिखे गए प्रोग्राम का फाइल नाम इक्स्टेन्शन “.c” होता है। ये जरूरी नहीं की आप नोटपैड जैसे टेक्स्ट एडिटर का इस्तेमाल करके ही प्रोग्रामिंग करें क्योंकि इस पर सिर्फ कोड को टेक्स्ट के रूप में लिखने का काम हो सकता है उसे रन करने के लिए आपको कम्पाइलर की मदद ही लेनी पड़ेगी।

सी भाषा के लिए कुछ कम्पाइलर(Compiler)के नाम

    1. Tiny C Compiler
    2. Clang
    3. Portable C Compiler
    4. Borland Turbo C
    5. Tasking
    6. Small-C
    7. Alan Snyder’s Portable C Compiler
    8. C++Builder
    9. CompCert
सी-भाषा का जॉब प्रोफाइल C Language Job Profile

जैसा की आप जानते हैं की सी एक प्रोग्रामिंग भाषा है इसलिए आपको प्रोग्रामिंग का काम ही मिलेगा। सी प्रोग्रामिंग के शुरुआती करिअर में आपको सिर्फ एक प्रोग्रामर का जॉब मिल सकता है लेकिन जैसे ही आपको कुछ दिन का अनुभव होता है तो आपको टीम में अच्छी खासी जगह मिल जाती है। आप अपने सी भाषा के स्किल क्षेत्र में टीम लीडर भी बन सकते हैं।

लेकिन आज के समय में आपको सिर्फ एक भाषा पर निर्भर नहीं रहना चाहिए क्योंकि कोई भी कंपनी उस व्यक्ति को अधिक वरीयता देती है जिसे कई भाषाएं आती हो इससे उनका काम भी हो जाता है और अन्य व्यक्ति को काम पर रखने की जरूरत भी नहीं पड़ती।इसलिए यदि आप इसमें अपना करिअर बनाना चाहते हैं तो अन्य भाषाएं भी सीखें।

नौकरी देने वाली कंपनियां Hiring Companies

वैसे तो आज के समय में कई कंपनियों में सी भाषा का काम है क्योंकि इसका इस्तेमाल हर क्षेत्र के लोगों को करना पड़ता है। उदाहरण के लिए कुछ कंपनियों और कंपनी क्षेत्र के नाम दिए हैं जहां आप नौकारी के लिए आवेदन कर सकते हैं या उनके यहाँ खाली पद पता कर आप जा सकते हैं।

    • Accenture Solutions Pvt Ltd
    • RedHat
    • Ubuntu
    • Nvidia
    • Accenture Solutions Pvt Ltd
    • Banking sectors
    • It companies
    • Security Companies etc..

ये सिर्फ एक उदाहरण के लिए है, इस क्षेत्र में बहुत सारी कंपनियां हैं।

सी-भाषा कोर्स की सैलेरी- C Language Salary

सी भाषा का कोर्स करने के बाद आपको भारत में 15 से 30 हजार तक की सैलेरी मिल सकती है लेकिन समस्या ये है की कोई भी कंपनी अब एक से अधिक प्रोग्रामिंग भाषा जानने वाले व्यक्ति को वरीयता देती है। ऐसे में आपको ऐसा जॉब ढूँढने में दिक्कत हो सकती है जो सिर्फ सी भाषा के आधार पर मिल सके।

सी प्रोग्रामिंग भाषा कहाँ से सीखें Where To Learn C Programming Language

सी प्रोग्रामिंग भाषा आप किसी कोचिंग इंस्टिट्यूट,यूनिवर्सिटी,स्कूल या ऑनलाइन भी सिख सकते हैं। चूंकि प्रोग्रामिंग अब आम होता जा रहा है इसलिए इसे हर जगह सिखाया जाता है। यदि आप किसी संस्था से सी भाषा का कोर्स करते हैं तो आपको सर्टिफिकेट दिया जाता है जो एक सबूत होता है की आपने सी भाषा सीखी है।लेकिन यदि आपके पास कोई सर्टिफिकेट नहीं है तो घबराने की कोई बात नहीं आप अपने स्किल के आधार पर भी नौकरी पा सकते हैं।

निष्कर्ष:Conclusion

C Language क्या है.सी एक बेसिक प्रोग्रामिंग भाषा है जिसे सीखना काफी आसान है ,हालांकि मार्केट में इससे अच्छे प्रोग्रामिंग भाषा उपलब्ध हैं जिनमें बहुत सारे फीचर्स हैं लेकिन फिर भी ये अभी अपनी खाशीयत के कारण सबसे अधिक इस्तेमाल होने वाले प्रोग्रामिंग भाषा में से एक है।आगे भी ये अपनी जगह मार्केट में बनाए रखेगा।

हमने इस लेख के माध्यम से सी भाषा के बारे में कुछ महत्वपूर्ण जानकारी जैसे की इसकी परिभाषा और इतिहास के बारे में बताने की कोशिश की है।इस भाषा के लिए अन्य सभी जरूरी पहलुओं पर जानकारी दि गई है।उम्मीद है की ये आर्टिकल आपको पसंद आया होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here