Chartered Accountant Kaise Bane

Chartered Accountant Kaise Bane, CA यानि Chartered Accountant की नौकरी देश में सबसे ज्यादा salary और respect मिलनेवाली नौकरियों में से एक है, इसलिए CA को Higher Education का एक बेहतरीन विकल्प माना जाता है| लेकिन Chartered Accountant बनने को लेकर हम सभी के दिमाग में कई ऐसे सवाल होते है, जिनकी वजह से हम Decision नहीं ले पाते|

इस आर्टिकल में हम आपको चार्टर्ड अकाउंटेंट से रिलेटेड सभी सवालों के जवाब देंगे, जैसे की CA Ka Full Form Hindi Me क्या है? CA aKaise Bane, क्या साइंस और आर्ट्स वाले स्टूडेंट्स CA बन सकते है? और CA Course Details in Hindi के साथ CA Ki Salary Kitani Hoti Hai? तो ये आर्टिकल काफी इंटरेस्टिंग होने वाला है, इसलिए पूरा आर्टिकल जरूर पढियेगा|

CA Ka Full Form Hindi Me – ICAI Ka Full Form Hindi Me

CA Ka Full Form Chartered Accountant है और CA Course को Chartered Accountancy के नाम से जाना जाता है| जिसे भारत में ICAI हैंडल करती है|

ICAI Ka Full Form Indian Chartered Accountants Institute है|

CA Kya Hai? – CA का इतिहास

Chartered Accountancy एकाउंटिंग, ऑडिटिंग, टैक्सेशन और फाइनेंसियल असेसमेंट करने की प्रोफेशनल प्रैक्टिस मानी जाती है| एक छोटे दुकानदार से लेकर Multi-National Companies तक हम सभी को अपना अकाउंट मैनेज करवाने के लिए चार्टर्ड अकाउंटेंट की जरुरत पड़ती है| और जैसे जैसे देश में नए नए Income Tax Rules आ रहे है और लोग White Income के रूप में अपनी आमदनी दिखाने के लिए जागरुक हो रहे है, वैसे वैसे Chartered accountants की डिमांड भी बढ़ रही है|

Chartered Accountancy स्टडी की शुरुआत 1854 में ब्रिटेन में की गयी थी, और 50+ सालों के बाद आज CA किसी भी बिज़नस एक्टिविटी की जरुरत बन गए है| भारत की बात करें तो यहाँ Chartered Accountancy को ICAI यानी Indian Chartered Accountants Institute कंडक्ट करते है|

Chartered Accountant किसी भी Company या Organization के Account Department में Private Advisor के रूप में काम करते है| CA Course को complete करने के बाद आप किसी भी आर्गेनाइजेशन के Auditing, Cost accounting, Tax management और Management accounting जैसे सेक्टर्स में काम कर सकते है| इसके अलावा आप अपनी खुद की Consultancy and financial services देना शुरू कर सकते है|

CA कौन होते है और किस डिपार्टमेंट में काम करते है, ये जानने के बाद अब सवाल आता है की CA Kaise Bane? तो आइये जानते है CA Course Details Hindi Me.

CA Kaise Bane? – CA Course Details in Hindi

Chartered accountant बनने के लिए आपको 5 साल पढाई करने की जरुरत होती है, और अगर आप इन 5 सालों में कंडक्ट हुई सभी परीक्षाएं पास कर लेते हो तो 5 साल के बाद आपके नाम के आगे CA लगना तय है|

साल 2006 में ICAI (Indian Chartered Accountants Institute) ने Chartered Accountancy के कोर्स को three levels में लॉन्च किया था, जो निम्न मुताबिक़ है|

  • CPT Full Form – Common proficiency test
  • IPCC Full Form – Integrated Professional Competence Course
  • FC Full Form – Final Course

CA बनने के दो तरीके

  • 1. CA Course after 12th through CPT Route In Hindi
  • 2. CA Course after Graduation through Direct entry to IPCC


CA Course after 12th through CPT Route Explained in Hindi

इस तरीके से CA Student 12th Class Pass करने के बाद डायरेक्ट CA Course शुरू कर सकता है, जिसके साथ वो अपनी graduation भी कर सकते है| तो आइये जानते है इसके बारें में विस्तार से,  



Common proficiency test

Chartered accountancy में CPT को Entry Level Foundation Course माना जाता है, जिसमें quantitative aptitude test, general economics, mercantile laws और accounting जैसे 4 basic लेवल subjects होते है|

आप CA Course में Register करवाने के कुछ समय में CPT की एग्जाम दे सकते है, CPT की परीक्षा एक साल में दो बार जून और दिसम्बर के महीने में Conduct की जाती है, जिसके पहले April और October के महीने में आपको CPT Exam Form Submit करना होता है|

CPT Passing Rate  की बात करें तो स्टडीज के मुताबिक CPT Exam देनेवाले हर 100 students में से करीब 35 students यानी 35% विद्यार्थी CPT की एग्जाम First attempt में क्लियर कर पाते है|

Integrated Professional Competence Course

CPT Result आने के बाद pass हुए students को IPCC के लिए रजिस्टर करना होता है| IPCC में रजिस्टर करने के 9 महीने बाद CA Student IPCC Exam दे सकता है| IPCC की एग्जाम एक साल में दो बार May और November के महीने में ली जाती है|

IPCC Exam में पास होने के बाद CA Student को 3 साल की article ship training शुरू करने से पहले 100 hours ITT Course और 35 Hours Orientation Course करना पड़ता है|

IPCC Passing Rate की ओर ध्यान दें तो Analysis के मुताबिक approx. 10% Students IPCC के दोनों ग्रुप्स की एग्जाम first attempt में क्लियर कर पाते है|

Chartered Accountant Kaise Bane-CA Final Exam

IPCC में पास हुए students को CA Final Exam के लिए रजिस्टर करना होता है, जो की एक साल में दो बार May और November के महीने में ली जाती है| CA Final Exam Passing Rate की ओर ध्यान दें तो करीब 5% Students इस एग्जाम को First Attempt में क्लियर कर पाते है|

Chartered Accountancy की Final exam पास करने के बाद और GMCS – I and GMCS – II trainings को successfully complete करने के बाद स्टूडेंट को फाइनली ICAI (Indian Chartered Accountants Institute) Chartered Accountant की डिग्री देते है और स्टूडेंट CA बन जाते है|

CA Course After Graduation Explained in Hindi

अगर आपने ग्रेजुएशन कम्पलीट कर ली है, जिसके बाद आप CA बनने का प्लान कर रहे है, तो आपको CPT Exam देने की जरुरत नहीं होती, आप डायरेक्ट अपनी आर्टिकलशिप ट्रेनिंग शुरू कर सकते है और उसके बाद IPCC Exam दे सकते है|

जिसके लिए आपको CA Course After Graduation के लिए ICAI द्वारा बनाई गयी प्रोसेस पूरी करनी होगी, जिसके बाद 9 महीने Articleship training लेकर आप IPCC की एग्जाम दे सकते है| हालाकि आर्टिकलशिप शुरू करने से पहले आपको 100 hours of ITT and 35 hours of Orientation के कोर्स complete करने होंगे|

Difference Between CA through CPT Route and Direct Entry After Graduation

Chartered Accountant बनने के इन दोनों तरीकों के बीच CA Course कुछ डिफरेंस है, जो निम्न मुताबिक़ है|

Chartered Accountant Kaise Bane-चार्टर्ड अकाउंटेंट बनने की योग्यता और प्रवेश

  • CA Ka Full Form Hindi Me और CA Course Details in Hindi जानने के बाद Students के दिमाग में तीसरा सबसे बड़ा सवाल आता है की CA Kaun Kar Sakata hai? तो आइये CA बनने की Eligibility और Admission के बारें में जानते है|
  • हम में से ज्यादातर लोगों को लगता है की Chartered Accountant सिर्फ Commerce Students ही बन सकते है, तो बता दें की CA सिर्फ Commerce Students नहीं बल्कि Commerce, Arts और Science तीनो Backgrounds के Students बन सकते है|
  • 12th Standard Complete करने के बाद Students ICAI में Register करके CPT Exam देकर CA Programme में पढना शुरु कर सकते है|
  • जिन students को सिर्फ CA ही करता है वो सिर्फ 10th Standard पास करके ही Chartered Accountancy के लिए ICAI के वहां CA Course के लिए Register कर सकते है, हालाकि वो CPT Exam 12th Standard Pass करने के बाद ही दे सकते है|
  •  
  • CA Course ज्वाइन करने के लिए आपको Commerce स्ट्रीम में कम से कम 50% Result के साथ 12th Pass करना पड़ेगा, वहीं non-Commerce students को CA Course में एनरोल करने के लिए उनकी 10+2 examination में mathematics को Include करके 60% और mathematics को exclude करके 55% Result लाना जरुरी होता है|
  • CPT Exam को पास करने के बाद स्टूडेंट ICAI के मेम्बर बनने के लिए एनरोल किये जाते है|


Chartered Accountant Kaise Bane-CA Career Opportunities in India

जैसा की हमने आपको पहले भी बताया की नौकरी करने वाले व्यक्ति से लेकर बड़ी मल्टी नेशनल कम्पनीज तक हर किसी को चार्टर्ड अकाउंटेंट की जरुरत पड़ती है, इसीलिए CA का Scope कभी कम नहीं होगा|

पिछले 4-5 सालों से CA की demand तो काफी बढ़ रही है, लेकिन hard study and examination की वजह से हर साल पुरे भारत में सिर्फ 9000 से 10000 विद्यार्थी ही पास होकर Fresh CA’s बनते है|

Chartered accountancy complete करने के बाद candidate को Indian Chartered Accountants Institute से membership और certificate लेने की जरुरत होती है, membership को हर साल 400 रुपये एनुअल फीस देकर Renew करवाना होता है|

सिर्फ India में ही नहीं Abroad में भी CA की काफी डिमांड है, इसलिए ये एक बेस्ट जॉब ओरिएंटेड कोर्स भी माना जाता है| CA बनने के बाद आप गवर्नमेंट सेक्टर और पब्लिक सेक्टर दोनों में काम कर सकते है|

एक Chartered Accountant खुद की ऑफिस शुरू करके इंडिविजुअल CA बनकर Small and Medium Businesses को Annual Package basis पर अपनी सर्विस दे सकते है|

Chartered Accountant बनने के बाद आप Accounting, Auditing, Banking, Tax management, Cost accounting और Consultancy जैसी कई बिज़नस एरियाज में काम कर सकते है|  

Top Recruiters for Chartered Accountants in India

Chartered Accountant Kaise Bane-Jobs in a CA Firm for Fresher

Chartered Accountant बनने के बाद आप फ्रेशर हो या एक्सपीरियंसड़, निम्न लिखित Firms में आप अपना CA Career Pursue कर सकते है|

1. Operating accounts

2. Internal auditing

3. Managing tax and tax auditing

4. Budgeting and budgetary control

5. Forensic auditing

6. Direct and indirect taxation advisory

7. Monitoring Expenditure

8. Bookkeeping and Finance controller

इसके अलावा भी CA बनने के बाद आप किसी भी कंपनी में Finance and accounts से रिलेटेड किसी भी डिपार्टमेंट में काम कर सकते है|

Ca Starting Salary Package in India

ICAI से CA का Certificate मिलने के बाद एक Fresher Chartered Accountant का Starting Salary Package 3 लाख रुपयों से 6 लाख रुपयों के बीच हो सकता है| हालाकी ये पूरी तरह से Employment firm के ऊपर निर्भर करता है, लेकिन CA को भारत की highest paying job में से एक गिना जाता है|

Ca Salary in India per month की बात करें तो भारत में एक चार्टर्ड अकाउंटेंट की एवरेज सैलरी 30,000 रुपये प्रति महिना से शुरू हो सकती है, जिसकी कोई upper limit नहीं है, यानी एक CA कंपनी की higher position पर पहुंचकर महीने के 5 से 10 लाख भी कमा सकता है|

FAQ’s Regarding Chartered Accountant Kaise Bane

Q) CA Ka Full Form Hindi Me क्या है?

CA का फुल फॉर्म Chartered Accountant है|

Q) CA CPT Course कितने साल का होता है?

CA CPT Course कम से कम 4.5 साल का होता है|

Q) Graduation के बाद Direct Scheme से CA बनने में कितना समय लगता है?

ग्रेजुएशन के बाद CA बनने में कम से कम 3 साल का समय लगता है|

Q) Arts Students CA Ban Sakate hai?

जी हाँ, Arts Students भी ICAI में रजिस्टर करके CA Course करके Chartered Accountant बन सकते है|

Q) Science Students CA Ban Sakate hai?

जी हाँ, Science Students भी 12th Standard के बाद CA Course करके Chartered Accountant बन सकते है|

Q) ICAI Ka Full Form Kya Hai?

ICAI का फुल फॉर्म Indian Chartered Accountants Institute है|

Q) CA Day कब है और क्यों मनाया जाता है?

CA Day हर साल जुलाई महीने की पहली तारीख को मनाया जाता है, क्योंकि 1st July 1949 को भारत में Institute of Chartered Accountants की स्थापना हुई थी|



निष्कर्ष – Conclusion

तो दोस्तों, उम्मीद करते है इस आर्टिकल Chartered Accountant Kaise Bane में आपने CA ka Full Form Hindi Me, CA Course Details in Hindi, CA Average Salary in India और Top CA Recruiters के साथ Chartered Accountancy के बारे में और भी कई जानकारियाँ प्राप्त की होंगी, फिर भी Chartered Accountant के बारें में अगर आपके कोई सवाल है तो आप हम से कमेंट में पूछ सकते है|

अगर आपको ये जानकारी पसंद आई हो तो अपने दोस्तों के साथ Social media platforms पर इस आर्टिकल को शेयर जरुर कीजिये, क्योंकि ज्ञान बांटने से ही बढ़ता है, और ऐसे ही फायदेमंद आर्टिकल्स पढ़ते रहने के लिए हमारे ब्लॉग TechBagz पर विजिट करते रहियेगा, धन्यवाद|  



LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here