Digital Currecncy Kya Hai

Digital Currency Kya Hai. ज़माना आधुनिक होने के साथ ही लोग भी दुनियाभर में मौजूद कई अलग अलग Investment Options में अपने पैसों का निवेश करने की ओर आगे बढ़ रहे है| अभी के समय में सबसे लोकप्रिय Investing Option है Digital Currency. जिसमें दुनियाभर के लाखों लोग अपने पैसे निवेश करके काफी अच्छा मुनाफा कमा रहे है|

इस आर्टिकल में हम बात करेंगे Digital Coin Kya Hai, इसके फायदे व नुकसान क्या है और भारत में डिजिटल करेंसी को कैसे खरीदा जा सकता है, साथ ही हम आपके साथ List Of Digital Coin भी शेयर करेंगे, तो पूरा आर्टिकल जरुर पढियेगा|

Digital Currency Kya Hai.

अभी तक हम जो करेंसी उपयोग करते आये है, जिसमें हम अपने हाथ से करेंसी का लेन-देन करते हैं, उसको “फिजिकल करेंसी” कहा जाता रहा है। दुनिया के जो भी व्यापर व्यवसाय हैं, वे सभी फिजिकल करेंसी से ही नियंत्रित होते रहे है। 

लेकिन जब से “इंटरनेट” हमारे जीवन का एक ऐसा अंग बन चुका है, कि बहुत सारे “कॉन्सेप्ट” ने एक साथ जन्म लिया है, जैसे, रियल टाइम इनफार्मेशन, दुनिया में किसी से तुरंत संपर्क, ऑनलाइन व्यवसाय, ऑनलाइन मार्केटिंग, वर्चुअल ऑफिस कांसेप्ट आदि आदि। 

इन सभी के बीच एक बहुत ही “महत्वपूर्ण कांसेप्ट” ने भी जन्म लिया, और वह है, “डिजिटल करेंसी” का। डिजिटल करेंसी, वह करेंसी है, जो “मुद्रा” के रूप में है, या उसकी कीमत “मुद्रा” के रूप में ही है, और मुख्य रूप से यह “डिजिटल कंप्यूटर सिस्टम” में इंटरनेट के माध्यम से स्टोर होती है। यह इंटरनेट पर एक तरह का “डिस्ट्रिब्यूटेड डेटाबेस” है। और इस तरह का “डाटा” या तो किसी “कंपनी” या फिर किसी “बैंक” का ही हो सकता है। 

डिजिटल मनी, इलेक्ट्रॉनिक मनी या इलेक्ट्रॉनिक करेंसी, “साइबर कैश” आदि “डिजिटल करेंसी” का ही प्रकार है। 

डिजिटल करेंसी और फिजिकल करेंसी में कुछ अंतर भी हैं, जैसे, डिटिजल करेंसी, फिजिकल करेंसी की तरह कोई प्रिंटेड नोट या सिक्के नहीं है, बल्कि यह एक कंप्यूटर सिस्टम में मैनेज्ड डेटाबेस के रूप में है, जिसकी अथॉरिटी आपके पास है। 

आज के “इंटरनेट युग” में यदि आपके पास कोई फिजिकल करेंसी भी नहीं है, लेकिन “डिजिटल करेंसी” की ताकत से आप कोई भी खरीदारी-बिकवाली कर सकते हैं। फिजिकल करेंसी के अस्तित्व में आने के लिए, उनकी प्रिंटिंग, स्ट्रिक्ट मैनेजमेंट, उत्पादन की लागत, रख-रखाव के साथ साथ, फिजिकल डेप्रिसिएशन भी संभव होता है जबकि “डिजिटल करेंसी” में ये कोई भी कमियां नहीं है । 

History Of Digital Currency.

वर्ष 1990 में “डॉट-कॉम बबल” ने सबसे पहले इसकी शुरआत की थी जो “डिजी कैश” नाम से डिजिटल करेंसी लेकर आयी थी । फिर 2006 में “लिबर्टी रिज़र्व” ने डिजिटल करेंसी सर्विस की शुरआत की थी। 

लेकिन शुरूआती दौर में इस तरह की “डिजिटल करेंसी” अपना अस्तित्व कायम नहीं कर पायीं, इसका कारन था कि, उस समय, ई-कम्मेर्न्स कंपनियों का इतना बोलबाला नहीं था, जिससे इस तरह की “डिजिटल करेंसी” मार्किट में अपनी स्थिरता नहीं बना पायीं, यह सिर्फ “क्रेडिट कार्ड”, “कैश कार्ड” आदि के रूप में ही मार्किट में चलती रही, जिससे ज़्यादा वॉल्यूम संभव नहीं हो पाया, और ये मुँह के बल जा गिरी। 

इसी तरह 1996 में अमेरिका ने “ई-गोल्ड” द्वारा डिटिजल करेंसी की शुरुआत की थी, जो सबसे “पहली” डिजिटल करेंसी मानी जाती है, लेकिन सीमित पहुंच होने के कारण यह 2006 में बंद हो गयी। 

Q कॉइन और QQ कॉइन, वह डिजिटल करेंसी थी तो “कमोडिटी” पर आधारित थी और QQ मैसेजिंग प्लेटफार्म द्वारा नियंत्रित की जाती थी, जिसकी शुरुआत 2005 में हुई थी । 

चीन में Q डिजिटल करेंसी में इतनी ताकत थी कि वह चीन के फिजिकल करेंसी “युआन” पर भी अपना अच्छा-ख़ासा असर डाल सकती थी। 

आज इंटरनेट के इस सफल दौर में आप यदि कोई खरीदारी करना चाहते हैं, तो डिजिटल करेंसी के माध्यम से सिर्फ अपना मोबाइल उपयोग करके कुछ पेमेंट ऐप्स जैसे “पेपाल, “वेन्मो”, “मोबिक्विक”, “पे टी एम” द्वारा भी सफलता से खरीदारी कर सकते हैं, और वह भी बिलकुल सुरक्षित रूप से । 

आजकल के समय में “क्रिप्टोकरेन्सी” “बिटकॉइन” के साथ डिजिटल करेंसी के रूप में अत्यंत प्रचलित है, जिसको 2008 में शुरू किया गया था और आजकल यह सबसे ज़्यादा उपयोग होने वाली डिजिटल करेंसी है। 

Types Of Digital Currency

डिटिजल करेंसी एक “विशेष तरह” की करेंसी होती है जिसकी अपनी “विशेष विशेषताएं” होती हैं । डिजिटल करेंसी के जितने भी प्रकार हैं, उन सभी की वैध और तकनीकी रूप से अपनी-अपनी विशेषताएं होती है । यदि इन सभी विशेषताओं के कुछ ग्रुप बना दिए जाएँ तो, इनको बहुत बड़े रूप में लागू किया जा सकता है । 

वे सभी देश जहाँ “डिजिटल करेंसी” को मान्यता प्राप्त है, उन सभी देशो की अपनी सरकार की नीतियों के आधार पर, उनके अपनी परिभाषाएं हैं, जिसमें, डिजिटल करेंसी, वर्चुअल करेंसी, क्रिप्टोकरेन्सी, ई-मनी, नेटवर्क मनी, ई-कैश और अन्य प्रकार के डिजिटल करेंसी भी शामिल हैं । 

इन सभी करेंसी से सम्बंधित, रेगुलेटरी कमेटी हैं, जो उनके ऑपरेशन और मार्किट में उनके उपयोग को निर्धारित करती हैं। 

Virtual Currency

“यूरोपियन सेंट्रल बैंक” ने 2012 में “वर्चुअल करेंसी” की शुरआत की, और बैंक के अनुसार, “यह एक अनियंत्रित डिजिटल मनी था, जो इनके डेवलपर द्वारा जारी और नियंत्रित किया जाता था, और इस वर्चुअल करेंसी को सिर्फ वे ही लोग उपयोग किया करते थे, जो एक “विशेष प्रकार” की “वर्चुअल कमेटी” से सम्बंधित थे। 

अमेरिकन ट्रेज़री ने, 2013 में इस करेंसी को “संक्षेप” में कहा कि, “कुछ विशेष परिस्थितियों में यह एक करेंसी की तरह व्यवहार करती है, लेकिन इसमें, वास्तविक करेंसी की तरह सारे “गुण” नहीं हैं। और कानूनी रूप से यह एक “वैध मुद्रा” नहीं है । 

परन्तु, कुछ विशेष परिस्थितयों में यह “वास्तविक मुद्रा” का एक विकल्प हो सकती हैं । 

आजकल सबसे ज़्यादा प्रचलित “बिटकॉइन” डिजिटल करेंसी एक तरह की “वर्चुअल करेंसी” का ही एक प्रकार है । बिटकॉइन और इसके विकल्प जो क्रिप्टोग्राफ़िक अल्गोरिथ्म्स पर कार्य करते हैं, इसलिए यह “वर्चुअल करेंसी” एक तरह की “क्रिप्टोकरेन्सी” ही है। 

क्रिप्टोकरेन्सी – Cryptocurrency

क्रिप्टोकरेन्सी एक तरह की डिजिटल करेंसी ही है और इसकी जो भी “डिजिटल वैल्यू” है, वह “क्रिप्टोग्राफ़ी” के आधार पर कार्य करती है, जिससे “डिजिटल सिग्नेचर” के माध्यम से “एसेट ट्रांसफर” को Network द्वारा complete किया जाता है। 

कभी-कभी “प्रूफ ऑफ़ वर्क” या “प्रूफ ऑफ़ स्टैक” स्कीम द्वारा उपयोग और मैनेज किया जाता है । 

सबसे पहला और सबसे ज़्यादा प्रचलित सिस्टम “बिटकॉइन” है, जो इलेक्ट्रॉनिक नेटवर्क माध्यम से “क्रिप्टोग्राफ़ी” पर आधारित होता है। 

ट्रेडिशनल करेंसी – Traditional Currency

आज लगभग सभी बैंको ने कंप्यूटर बेस्ड ऑपरेशन शुरू कर दिया है, और देखा गया है, कि, फिजिकल कैश के अलावा बहुत से ग्राहक ऑनलाइन मनी जो बैंक टू बैंक ट्रांसफर, बैंक टू मर्चेंट ट्रांसफर, क्रेडिट कार्ड परचेसिंग आदि ऑपरेशन करते हैं, इस फिजिकल करेंसी के इस रूप को, एक प्रकार से “डिजिटली” ऑपरेटेड मनी ही कहा जा सकता है, जिसमें ग्राहक और मर्चेंट बिना किसी “फिजिकल करेंसी” के कार्य करते हैं। 

क्रिप्टोकरेन्सी के प्रकार

अप्रैल 13 , 2021 के अनुसार 10 तरह की क्रिप्टोकरेन्सी हैं, जो कि मार्किट कैपिटलाइजेशन के आधार पर निम्न हैं : 

बिटकॉइन                 $1.2 ट्रिलियन 

एथेरेयम                  $263.4 बिलियन 

बिनान्स कॉइन             $87 बिलियन 

XRP                      $81.8 बिलियन 

टेथर                       $45.4 बिलियन 

कार्दानो                   $44.7 बिलियन 

पोल्काडॉट                $39.3 बिलियन 

ऊनीस्वैप                  $18.8 बिलियन 

लाइट कॉइन            $18.1 बिलियन 

स्टेलर                     $14.9 बिलियन 

डिजिटल करेंसी कैसे काम करती है

डिजिटल करेंसी के लिए एक “वॉलेट” होने आवश्यक है, जो एक तरह के सॉफ्टवेयर का एक भाग है जो अनिश्चित समय के लिए डिजिटल करेंसी को अपने पास रखता है । 

सभी डिजिटल करेंसी वॉलेट के लिए एक “पब्लिक की (key)” और कम से कम एक “प्राइवेट की (key)” होना आवश्यक है । 

इसको समझने का सबसे सरल उदाहरण है कि, “पब्लिक की” एक तरह का “अज्ञात पता” है, जब आप डिजिटल करेंसी भेजते हैं या रिसीव करते हैं तब यह “पता” पब्लिक लेजर पर रिकॉर्ड हो जाता है, यह “पब्लिक लेजर” ही एक तरह का ब्लॉक है, और ऐसे कई ब्लॉक मिलकर “ब्लॉकचैन” बनाते हैं। और इसी ब्लॉक चैन के आधार पर डिजिटल करेंसी कार्य करती है। 

दूसरी तरफ “प्राइवेट की” को कोई भी नहीं देख सकता है, लेकिन जो इसका ओनर है सिर्फ वही देख सकता है। इसमें क्रिप्टोग्राफ़िक इनफार्मेशन होते है जो वॉलेट से बाहर जाने वाले ट्रांसफर को ऑथोराइज़ करते है। प्राइवेट के की सुरक्षा के लिए इसको “एन्क्रिप्ट” किया जाता है और हार्ड कॉपी पर इसका बैकअप लिया जाता है। 

डिजिटल करेंसी बिटकॉइन कैसे खरीदें ?

डिजिटल करेंसी में आजकल सबसे ज़्यादा सरल सुगम यदि कोई करेंसी है तो वह है, “बिटकॉइन” । 

जैसे हम स्टॉक मार्किट में शेयर खरीदतें हैं, लगभग वैसे ही हम डिजिटल करेंसी बिटकॉइन को खरीद सकते हैं। जिसमें एक एक्सचेंज होता है, पर्सनल आइडेंटिफिकेशन नंबर, पेमेंट का मोड होता है जैसे बैंक अकाउंट, डेबिट कार्ड और क्रेडिट कार्ड, और जाहिर है कि अच्छा और हाई स्पीड इंटरनेट भी होना चाहिए। 

इसके अलावा यह भी रिकमेंड किया जाता है कि एक्सचेंज का अलावा भी आपका एक “वॉलेट” अकाउंट भी होना चाहिए । 

किसी डिजिटल करेंसी एक्सचेंज से जुड़ें

जिस तरह स्टॉक मार्किट में कई तरह के एक्सचेंज होते हैं, जैसे ICICI Security , HDFC Securities , Ventura आदि आदि। इसी तरह से बिटकॉइन खरीदने के एक्सचेंज जैसे, “Coinbase”, “Coinbase pro”, “Cash app”, “Binance”, “Bisq” आदि। 

इन सभी एक्सचेंजों के अपने-अपने फीचर होते हैं, जो आप अपनी आवश्यकतानुसार चुन सकते हैं। 

एक्सचेंज और पेमेंट ऑप्शन

एक बार जब आप एक्सचेंज चुन लेते हैं, तब आप अपने सभी पर्सनल डॉक्यूमेंट जिसको एक्सचेंज में आवश्यकतानुसार अकाउंट खोलने के लिए आवश्यक हैं, उन्हें इकठ्ठा कर लीजिये। 

जिसमें आपकी पिक्चर, ड्राइवर लाइसेंस, आधार नंबर के अलावा आपकी इनकम का सोर्स और यदि आप नौकरी में हैं तो आपकी कम्पनी कि इनफार्मेशन भी आवश्यक होती है । 

यह लगभग स्टॉक मार्किट में किसी ब्रोकर के पास ब्रोकरेज अकाउंट खोलने जैसा ही है। 

डिजिटल करेंसी खरीदने के लिए आर्डर प्लेस करें

एक बार एक्सचेंज चुन लेने के बाद, उचित पेमेंट मोड द्वारा पेमेंट विधि चुन लेने के बाद आप डिजिटल करेंसी खरीदने के लिए अब आप तैयार हैं । 

हर एक्सचेंज कि अपने अलग-अलग फीचर होते हैं, जिसके आधार पर आप अपनी खरीद को निश्चित कर सकते हैं ।

एक्सचेंज कई प्रकार के आर्डर ऑफर करते हैं, जिसमें मार्किट लिमिट, स्टॉप-लॉस, स्टॉप-लिमिट, टेक-प्रॉफिट और टेक-प्रॉफिट, लिमिट आर्डर जैसे फीचर होते है। इसी तरह “Coinbase ” यूजर को रेकरिंग परचेस का लाभ देते हैं, जो हर दिन, हर हफ्ते या हर महीने भी हो सकता है । 

Key Takeaways:

  • Digital Coin Cryptography नाम की Security Technology से सुरक्षित होती है, जिसकी वजह से इन्हें Counterfeit करना या Double Spend करना लगभग नामुमकिन होता है|
  • कुछ Crypto Currencies Blockchain Technology पर भी आधारित होती है| जिसमें एक ऐसा वितरित खाता कंप्यूटर के असमान नेटवर्क द्वारा लागू किया जाता है, जो Digital Coin Transactions को मैनेज करता है|
  • Digital Currencies किसी भी Central Authority द्वारा Issue नहीं की जाती, इसलिए वो सभी देशों की Governments के interference या manipulation से बची हुई है|
  • Electronic Form में मौजूद होने की वजह से डिजिटल करेंसी को सिर्फ Mobile Phone और Computer द्वारा Access किया जाता है|
  • Bitcoin और Dogecoin जैसी सभी तरह की Crypto Currencies डिजिटल करेंसी है|
  • कुछ Digital Currencies Stable होती है और Markets के हिसाब से trade होती है, वहां Crypto Currencies निवेशकों के Sentiments और psychological Triggers की वजह से Price Movement करती है|

निवेश करने के लिए 10 डिजिटल करेंसी – Top 10 Digital Currencies for Investment

1. Bitcoin – बिटकॉइन

जनवरी 2009 में Blockchain Technology वाली इस पहली Crypto Currency को Mine किया गया था, और तब से लेकर आज तक Bitcoin सबसे ज्यादा पसंद की जानेवाली Crypto Currency मानी जाती है|

सबसे पहली Bitcoin की कीमत 94.52 यूएस डॉलर्स थी, जो की 13 सालों के बाद आज बढ़कर करीब 50,000 यूएस डॉलर्स हो गयी है|

हालांकि दिसम्बर 2017 में Bitcoin की कीमत 20,000 यूएस डॉलर्स पहुचने के बाद 2018 के अंत तक गिरकर 32,34 यूएस डॉलर्स हो गयी थी, लेकिन फिर Bitcoin ऐसा comeback किया की Bitcoin Investors मालामाल हो गए थे|

List Of Digital Coin में bitcoin सबसे ऊपर इसलिए रखी गयी है क्योंकि इसने अकेले Crypto Currency का 51% मार्केट शेयर अपने नाम करके रखा है|

Bitcoin Financial Details:

Market Capitalization: $930 Billion

Market Dominance: 51%

Price in USD: $50,000 – $49,500

Price in INR: ₹ 37,48,783 –  ₹36,73,800

Short Name of Bitcoin – BTC

Market Rank – No.1.

2. Ethereum – इथेरियम

Digital Currency की Main Philosophy है पैसों को Decentralize करना, लेकिन Ethereum सिर्फ Money Decentralize करने से भी एक कदम आगे है| Ethereum एक Software Platform है, जो Blockchain Technology पर आधारित है, इसका काम दुनियाभर में Nodes के साथ Server को बदलकर Internet को decentralize करना है|

साथ ही आप Ethereum की Digital Currency Ether में पैसों का निवेश कर सकते है| अगस्त 2015 में जब पहली Ethereum Digital Coin Mine की गयी थी, तब उसकी कीमत करीब $2.54 थी, जो आज बढ़कर 2400 Us dollars हो गयी है|

262 बिलियन डॉलर्स के Market Capitalization के साथ Ethereum Bitcoin के बाद दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी Digital Currency है|

Ethereum Financial Details:

Market Capitalization: $262 Billion

Market Dominance: 12.57%

Price in USD: $2,200 – $2,400

Price in INR: ₹ 1,64,800 –  ₹1,80,000

Short Name of Ethereum – ETH

Market Rank – No.2

3. Binance Coin – बाइनेंस कॉइन

Digital Currency Kya Hai आर्टिकल में अब Binance Digital Coin की बात करें तो Ethereum की तरह ही Binance Coin भी सिर्फ एक Digital Currency से कई ज्यादा है| 2017 में Binance Decentralized Exchange DEX शुरू नहीं हुआ था, तब तक इस Currency को Ethereum पर ही host किया गया था|

Binance DEX एक Platform है, जहाँ से आप Binance Coin को खरीद और बेच सकते हो, साथ ही BNB का इस्तेमाल करके आप एक Digital Currency in Hindi को दूसरी Currency में Convert भी कर सकते हो| ख़ास बात ये है की Binance DEX Users को Discount Offers भी देता है, इसीलिए ये दुनिया का सबसे ज्यादा Volume वाला Crypto Currency Exchange बन गया है|

Binance Coin in Hindi की बात करें तो 25 जुलाई 2017 के दिन जब इस Digital Currency को शुरू किया गया था, तब इसकी कीमत सिर्फ $0.11 थी, जो की बढ़कर आज $515 हो गयी है| 78 Billion Dollars के Market Capitalization के साथ ये दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी Digital Currency है|

Binance Coin Financial Details:

Market Capitalization: $78 Billion

Market Dominance: 4.25%

Price in USD: $500 – $600

Price in INR: ₹ 37,500 –  ₹45,000

Short Name of Binance Coin – BNB

Market Rank – No.3

4. Ripple – रिप्पल

Value Exchange के अलावा Ripple की मदद से Cross Border Financial Transaction काफी ज्यादा Efficiently किये जा सकते है| Financial Institutions के साथ काम करने की वजह से Ripple Real Time Exchange Rates की मदद से Lower currency exchange rate provide कराता है|

इसलिए Banks भी Cross Border Transactions के लिए Ripple का इस्तेमाल करती है|

निवेशकों के लिए Ripple Digital Coin (XRP) Real Value Provide करता है| Ripple Digital Coin की शुरुआत अगस्त 2013 में $0.005 की कीमत से की गयी थी, जो की January 2018 में $3.75 तक पहुच गयी थी| और अब एक XRP Coin की कीमत $1.14 है| 51 Billion Dollars के Market Capitalization के साथ Ripple दुनिया की चौथी सबसे बड़ी डिजिटल करेंसी है|

Ripple Financial Details:

Market Capitalization: $51 Billion

Market Dominance: 2.78%

Price in USD: $0.8 – $1.2

Price in INR: ₹ 60 –  ₹90

Short Name of Ripple – XRP

Market Rank – No.4

Digital Currency Kya Hai – Cryptocurrency

5. Dogecoin – डॉग कॉइन

List of Digital Coin में पांचवें नंबर पर अपनी जगह बनाने वाली Dog Coin को December 2013 में Billy Markus, Oregon और Jackson Palmer नाम के तीन दोस्तों ने बनाया था और सिर्फ 30 दिनों में dogecoin.com पर 10 लाख से भी ज्यादा लोगों ने विजिट किया था|

दिसम्बर 2013 में तो Doge Coin की Price सिर्फ $0.000335 थी और 2021 तक Doge Coin की Growth काफी धीरे हो रही थी.

लेकिन फिर दुनिया के दूसरे सबसे अमीर व्यक्ति Elon musk ने tweet किया था One Word: Doge (Dec-20) और Dogecoin is the people’s crypto (Feb-21), और भी कई Celebrities ने Doge Coin को सपोर्ट किया था| जिस वजह से 20 अप्रैल 2021 के दिन Doge Digital Coin अपने All time high $0.40 तक पहुच गयी थी|

अभी के समय में Doge coin की कीमत $0.28 है, 36 Billion Dollars के Market capitalization के साथ ये दुनिया की सांतवी सबसे बड़ी Digital Coin है|

Doge Coin Financial Details:

Market Capitalization: $36 Billion

Market Dominance: 1.97%

Price in USD: $0.1 – $0.4

rice in INR: ₹ 7.5 –  ₹30

Short Name of Ripple – DOGE

Market Rank – No.7

6. Wazir X – वजीर एक्स

Digital Currency Kya Hai में Wazirx भारत का सबसे ज्यादा विश्वासु Crypto Currency Exchange है, जो की आपको INR में Digital Coin खरीदने में मदद करता है| Wazirx से आप Bitcoin, Ethereum, Ripple और Litecoin जैसी 100 से भी ज्यादा Digital Coins में निवेश कर सकते है|

दुनियाभर में अपनी बढ़ती लोकप्रियता को देखते हुए Wazir X ने अपनी Digital Currency WRX को 7 February 2020 के दिन लॉन्च किया था| और तब WazirX Coin की कीमत $0.14 थी| जो की 5 April 2021 के दिन अपने All Time High $5.42 तक जा चुकी है|

अभी के समय में WazirX की कीमत $2.63 है और एक्सपर्ट्स के मुताबिक भविष्य में WazirX Cryptocurrency की काफी growth होगी, इसलिए हमने List of Digital Coin for Investing में छठा स्थान WazirX को दिया है| WazirX Coin का Market Capitalization 775 Million Dollars है|

WazirX Financial Details:

Market Capitalization: $36 Billion

Market Dominance: 0.04%

Price in USD: $2.5 – $4

rice in INR: ₹188  –  ₹300

Short Name of Wazirx – WRX

Market Rank – No.98

7. Enjin Coin – इंजिन कॉइन

What Is Digital Currency In Hindi में अब Enjin Digital Coin Kya Hai की बात करें तो इस Crypto Currency को Especially Enjin नाम के Gaming Platform के लिए बनाया गया था|

लेकिन फिर निवेशकों ने भी इस Digital Currency में निवेश करना शुरू कर दिया| Enjin Coin 2,50,500 Gaming Communities के 18.7 million gamers के साथ जुड़ी हुई है|

नवम्बर 2017 में जब Enjin Coin को लॉन्च किया गया तब इसकी कीमत $0.021 थी, जो आज बढ़कर $2.15 हो गयी है| 1.79 billion dollars के Market capitalization के साथ Enjin Coin दुनिया की 60वी सबसे बड़ी डिजिटल करेंसी है|

Enjin Coin Financial Details:

Market Capitalization: $1.79 Billion

Market Dominance: 0.10%

Price in USD: $2 – $3

rice in INR: ₹150  –  ₹225

Short Name of Enjin Coin – WRX

Market Rank – No.60

8. BitTorrent – बिट टोरेंट

BitTorrent Token को February 2019 के में Tron Blockchain Technology के साथ लॉन्च किया गया था| उस वक्त BitTorrent Digital Coin की कीमत सिर्फ $0.0004 थी, फिर 17 April 2021 के दिन इस Currency में काफी बढ़ा उछाल आया था और ये अपने All Time High $0.0093 पर पहुँच गयी थी|

अभी के समय में BitTorrent Coin की कीमत $0.0071 है और 4.79 Billion Dollars की Market capitalization के साथ BitTorrent Coin दुनिया की 28वी सबसे बड़ी Digital Currency है|

मौजूदा Statistics को देखकर हमारे Experts का मानना है की BitTorrent Future में निवेशकों को काफी ज्यादा returns दे सकती है|

BitTorrent Coin Financial Details:

Market Capitalization: $4.79 Billion

Market Dominance: 0.26%

Price in USD: $0.003 – $0.008

rice in INR: ₹0.22  –  ₹0.60

Short Name of BitTorrent Coin – BTT

Market Rank – No.28

9. VeChain – वी चैन

List of Digital Currency Kya Hai for Investing में 9th Position पर अपनी जगह बनाई है VeChain Digital Coin ने, दरअसल VeChain एक Blockchain Platform है, जिसने August 2018 में अपना Digital Token VeChain (VTT) लॉन्च किया था|

उस वक्त VeChain के एक कॉइन की कीमत $0.014 थी, जो की अभी के समय में बढ़कर $0.18 तक पहुच गयी है|

बेहद कम समय में इतनी ज्यादा growth करने वाली ये Digital Currency 12.37 Billion dollars के Market Capitalization के साथ दुनिया की 13वी सबसे बड़ी Crypto Currency है|

VeChain Financial Details:

Market Capitalization: $12.37 Billion

Market Dominance: 0.67%

Price in USD: $0.15 – $0.25

rice in INR: ₹11  –  ₹19

Short Name of VeChain – VET

Market Rank – No.13

Also Read: Bitcoin क्या है.How to Purchase Bitcoin

10. Tron – ट्रॉन

Digital Currency Kya Hai में हमारे List में 10 वे स्थान पर जगह बनाने वाली Tron Coin एक Blockchain based Decentralized Operating System based crypto currency है| जिसे Justin Sun ने September 2017 में $0.00198 की कीमत में लॉन्च किया था| अभी के समय में Tron Digital Coin की कीमत $0.10 पर पहुच गयी है|

निवेशकों को काफी अच्छा Return देनेवाली Tron Digital Currency का Market capitalization 7.75 Billion Dollars है और ये दुनिया की 19वी सबसे बड़ी Digital Currency है|

Tron Financial Details:

Market Capitalizati : $7.75 Billion

Market Dominance: 0.42%

Price in USD: $0.10 – $0.16

rice in INR: ₹7.5 – ₹12

Short Name of Tron – TRX

Market Rank – No.19

What Is Digital Currency In Hindi में हमने Digital Coin Kya Hai और Top 10 Digital Currencies for Investment के बारे में तो जान लिया, लेकिन अब सवाल आता है How To Invest Blockchain In India?

तो यहाँ हम आपको Top 3 Crypto Currency Exchanges in India के बारे में बता रहे है|

Top 3 Digital Currency Exchanges in India – How To Invest Blockchain In India

Digital Currency Kya Hai

1. WazirX – वजीर एक्स

WazirX भारत का Most Successful Crypto Exchange है| WazirX के जरिये आप लगभग सभी Platforms जैसे की Android, IOS Mobile, Web, Windows और Mac से Digital Currency में INR में Invest कर सकते हो| WazirX को दुनिया के सबसे बड़े crypto exchanges में से एक Binance Operate करता है|

WazirX की Indian digital coin WRX ने बेहद कम समय में निवेशकों को काफी ज्यादा returns दिए है, और WazirX के जरिये आप WRX, Bitcoin, Ethereum, Binance, Dogecoin और 100 से भी ज्यादा Digital Currencies में Invest कर सकते हो| 

ख़ास बात ये है की WazirX की Transaction Fees काफी कम सिर्फ 0.2% है|

WazirX Platform पर Registration करने के कुछ ही घंटों में उनके innovative KYC system की मदद से आपकी Profile Verification हो जाती है और आप आसानी से Investment शुरू कर सकते हो|

में Personally काफी समय से WazirX के जरिये Crypto Currency में निवेश कर रहा हूँ|

2. Unocoin – यूनोकॉइन

List of Best Digital Currency Exchanges की लिस्ट में दूसरे स्थान पर अपनी जगह बनाने वाले Unocoin Platform की शुरुआत साल 2013 में की गयी थी और आज Unocoin के पास 1.32 Million+ Customers है|

Unocoin की मदद से आप Tether, Ethereum और Bitcoin जैसी कई Crypto Currencies को खरीद और बेच सकते है|

Unocoin की Platform Fee काफी कम 1% है और अच्छे Trading Volume के साथ ये 0.7% जितनी कम भी हो जाती है| Unocoin Platform का United States के कई बड़े Investors ने समर्थन किया है|

3. Zebpay – जेब पे

Zebpay भारत का एक और सबसे बड़ा और Trustworthy Crypto Exchange है| Zebpay के जरिये आप INR में Ether, Bat, Bitcoin, Tether और Litecoin जैसी 100 से भी ज्यादा Digital Coins को खरीद और बेच सकते हो|

Zebpay के 3 Million+ Satisfied Customers है| वहीँ Zebpay की Transaction Fees भी बेहद कम है|

डिजिटल करेंसी के फायदे

i) कम से कम ट्रांजेक्शन फीस

क्रेडिट कार्ड भी Digital Currency Kya Hai की एक रूप है, लेकिन जब भी हम क्रेडिट कार्ड का उपयोग करते हैं, तो अक्सर हमको उसकी ट्रांजेक्शन फीस देनी पड़ती है, जो की कुल अमाउंट की लगभग 2 से 5 % तक भी हो सकती है। यदि हम इंटरनेशनल ट्रांजेक्शन करते हैं, तो यह और भी खर्चीला हो जाता है। 

इसलिए ब्लॉकचेन का उपयोग करते हुए, बिटकॉइन और अन्य डिजिटल करेंसी को उपयोग करने से यह ट्रांजेक्शन फीस बहुत ही कम हो जाती है, और कभी-कभी तो बिलकुल भी नहीं। 

ii) कोई चार्जेबैक नहीं 

कभी-कभी ग्राहक कोई सामान क्रेडिट कार्ड से खरीदता है, और किसी झूठे कारण से वह सम्बंधित बैंक से चार्जेबैक मांगता है। चूँकि कारन झूठा है, तो बैंक को चार्जेबैक महंगा पड़ता है और यह फ्रॉड की श्रेणी में आता है। चार्जेबैक की प्रक्रिया को पूरा करना भी एक और बिज़नेस हो जाता है, जिसमे समय, सर्विसेज और एम्प्लोयी का इन्वॉल्वमेंट होता है। 

यदि यही खरीदारी अगर बिटकॉइन से की जाए तो चार्जेबैक की कोई भी गुंजाइश नहीं होती है । जब ग्राहक से एक बार पेमेंट मिल जाता है तो यह खरीदारी यही पर ख़त्म हो जाती है । इस तरह से बिटकॉइन का उपयोग करते हुए चार्जबैक से होने वाले किसी भी तरह के फ्रॉड से बचा जा सकता है । 

iii) प्रोसेसिंग स्पीड 

यदि कभी किसी को कोई फण्ड प्राप्त करना है और वह भी किसी बैंक की लीगल प्रोसेस द्वारा, तो अनुभव कहता है की कभी-कभी कई दिन भी लग जाते हैं, और बैंक को चार्ज भी दो, वह अलग। मतलब, चार्ज भी गया और समय भी और लगा। 

फण्ड प्राप्त करने की यही प्रोसेस यदि डिजिटल करेंसी, बिटकॉइन से की जाए तो कम चार्ज और स्पीड ऐसी कि, जो अंतर कूरियर से लेटर भेजने और ईमेल भेजने में होता है। यह प्रोसेस लगभग ईमेल भेजने जैसा ही है। 

iv) मुद्रा स्फीति या इन्फ्लेशन का असर

अकसर यह देखा गया है, कि जब भी देश कि अर्थव्यवस्था में कोई बदलाव आता है, तो मुद्रा स्फीति पर असर पड़ता है, जैसे कोरोना के आने से इन्फ्लेशन बहुत ही बढ़ गया था, और अर्थव्यवस्था पर अच्छा-खासा असर पड़ा था । 

डिजिटल करेंसी का उपयोग करने से इन्फ्लेशन जैसे किसी भी खतरे का कोई भी डर नहीं होता । क्योंकि डिजिटल करेंसी सीमित वॉल्यूम के साथ उसके अल्गोरिथम से पूर्णतः नियंत्रित रहती है , अतः डिजिटल करेंसी पर मुद्रा स्फीति या इन्फ्लेशन का कोई भी असर नहीं होता है। 

V) ग्राहक के साथ पूरा विश्वास 

बहुत बड़ी-बड़ी फाइनेंसियल कंपनियों को भी साइबर अटैक का सामना करना पड़ा है और उनके गुप्त और महत्वपूर्ण डाटा भी चोरी हो चुके हैं, जिसमे ग्राहक कि गुप्त जानकारियां जैसे क्रेडिट कार्ड नंबर, अकाउंट नंबर हैक का भी सामना करना पड़ा है। 

डिजिटल करेंसी का उपयोग करने में इस तरह के खतरे का कोई भी डर नहीं है। क्योंकि इसमें कोई अकाउंट नंबर या किसी कार्ड का कोई भी नंबर नहीं होता है। 

बस इसमें ग्राहक के पास एक कोड होता है जिससे इस तरह के हैक कि कोई भी सम्भावना नहीं होती है। 

Vi) डिजिटल कम्युनिटी द्वारा बिज़नेस में ग्रोथ 

डिजिटल करेंसी जैसे नए फाइनेंसियल टूल का बहुतायत से उपयोग करने से बहुत से नकारत्मक कारणों से बचा जा सकता है और साथ ही डिजिटल करेंसी द्वारा नियंत्रित होने वाले बिज़नेस में विश्वास बना रहता है। 

फलस्वरूप, डिजिटल करेंसी उपयोग करने वाले डिजिटल कम्युनिटी ग्रुप से बिज़नेस में ग्रोथ होना बिलकुल निश्चित है । 

Vii) इंटरनेशनल ग्राहक तक पहुँच 

डिजिटल करेंसी के ऑपरेशन प्रोसेस और किसी भी तरह के ट्रेडिशनल फाइनेंसियल जैसी कमियों के न होने से आप इंटरनेशनल ग्राहक तक आसानी से पहुँच सकते हैं, और कम से कम समय में आपके ट्रांजेक्शन सफलता से पूरे होते है। 

इस तरह ग्लोबल बिज़नेस तक बिज़नेस कि पहुँच बहुत आसान, सुरक्षित और विश्वासपूर्ण है। 

Viii) डिजिटल करेंसी एसेट कि सुरक्षा 

एक्सचेंज के अलावा यह रिकमंड किया जाता है कि आपकी एसेट एक्सचेंज के बाहर “वॉलेट” में होना चाहिए जो कि थोड़ा ज़्यादा सुरक्षित होता है। लेकिन यह भी ध्यान रहे कि सम्बंधित अथॉरिटी का कर्तव्य “वॉलेट” कि सुरक्षा करना नहीं है और यह उनके लिए कोई बिज़नेस भी नहीं है। 

Top 10 Digital Currencies for Good Returns – As Per My Opinion

1. Bitcoin

2. Ethereum

3. Binance Coin

4. Ripple

5. Dogecoin

6. WazirX

7. Enjin

8. BitTorrent

9. VeChain

10. Tron

Digital Currency In Hindi FAQs

Q. Digital Coin Kya Hai?

Digital Coin एक ऐसी Currency है, जिसे Manage, Store और Exchange Digitally Internet पर किया जाता है| ये Currency Physical Form की जगह Digital Coin के Electronic Form में होती है| इसे Virtual and Crypto Currency के रूप में भी जाना जाता है|

Q. क्या Digital Currency में Invest करना Safe है?

Safety के मामले में Digital Currency Cryptography और Blockchain नाम की Security Technology से सुरक्षित होती है, जिसकी वजह से इन्हें Counterfeit करना या Double Spend करना लगभग नामुमकिन होता है|

रही बात पैसों की तो सिर्फ Digital Currency ही नहीं बल्कि हर तरह के Investment में उतार चढाव तो आते रहते है, इसलिए Digital Currency से Return पाने के लिए आपको Risk तो लेनी ही होगी|

Q. क्या डिजिटल करेंसी भारत में Legal है? Digital Coin Guideline In India

Medium of Payment के रूप में Digital Currency को Central Authority authorize और regulate नहीं करती है, इसीलिए Crypto Currency सम्बंधित विवादों को हल करने के लिए देश में कोई निर्धारित rules, regulations and guidelines नहीं है.

इसलिए इसे खरीदने और बेचने के बीच अगर कोई जोखिम होने की Risk आपको ही लेनी होगी| हालाकि अभी तो, Bitcoin या कोई भी Crypto Currency को भारत में खरीदना और बेचना illegal या ban नहीं है, लेकिन इसके लिए Government भविष्य में कुछ Regulations जरुर Set कर सकती है|

Conclusion

उम्मीद करते है Digital Currency Kya Hai आर्टिकल में आपको Digital Currency In Hindi, List of Digital Coin (Top 10 Digital Currencies of 2021) और Top Crypto Exchange in India के बारें में पूरी जानकारी मिल गयी होगी, फिर भी Digital Currency के बारें में अगर आपका कोई सवाल है तो कमेंट करके जरुर पूछिये, हमें आपकी मदद करके ख़ुशी मिलेगी|

इस आर्टिकल Digital Currency Kya Hai को अपने सभी दोस्तों और परिवारजनों के साथ शेयर जरुर कीजिये, ताकि उन्हें भी Crypto Currency Investing के बारें में जानकारी मिले, और ऐसे ही फायदेमंद आर्टिकल्स पढ़ते रहने के लिए techbagz पर विजिट करते रहिएगा, धन्यवाद|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here