How To Become IPS Officer Hindi

How To Become IPS Officer In Hindi.भारत में बहुत सारे लोगों का सपना होता है कि वह IPS officer यानी Indian Police Service join करे। लेकिन एक IPS OFFICER बनना आसान नहीं है। IPS OFFICER की एक बहुत बड़ी पोस्ट होती है, हर साल लगभग 7 लाख से भी ज्यादा लोग इसकी परीक्षा के लिए फॉर्म भरते हैं जबकि सिर्फ गिने-चुने लोग ही इसे पास कर पाते हैं।

वहीं कुछ लोग आप में से यह नहीं जानते होंगे कि IPS OFFICER बनने के लिए किस तरह की पढ़ाई या फिर किन चीजों का होना जरूरी है तो इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि आईपीएस ऑफिसर कैसे बने? (How to become an IPS Officer in hindi)

How To Become IPS Officer In Hindi.

एक IPS Officer बनने के लिए सबसे पहले 12वीं  की परीक्षा किसी भी Stream चाहे Science, Commerce या फिर Humanities से पास करनी होती है।

जैसे ही आप 12वीं पास करते है तब आप अपने रूचि अनुसार किसी भी विषय में आपको अपनी ग्रेजुएशन डिग्री पूरी करनी होती है। IPS अफसर बनने के लिए ग्रेजुएट होना बहुत जरूरी होता है, आप बिना ग्रेजुएट किये IPS परीक्षा में बैठ नहीं सकते।

जब आपकी ग्रेजुएशन पूरी हो जाए उसके बाद आपको UPSC एग्जाम के लिए अप्लाई करना होगा या फिर आप फाइनल ईयर में भी इस एग्जाम के लिए अप्लाई कर सकते हैं। अगर आपको IAS,  IPS, IRS जैसे एग्जाम देने हैं तो उसके लिए आपको सबसे पहले UPSC एग्जाम क्लियर करना होगा क्योंकि UPSC ही इन सभी एग्जाम को कंडक्ट करता है और यह सबसे ज्यादा मुश्किल एग्जाम होता है।

इसके बाद जब आप (UPSC Exam) के लिए अप्लाई कर देते हैं उसके बाद आपको 3 मेन एग्जाम को क्लियर करना होता है.

1.प्रेलिमिनारी एग्जाम (The preliminary exam)

इसमें आप के दो पेपर होते हैं और दोनों कि में आपके ऑब्जेक्टिव के सवाल आते है यानि कि चार ऑप्शन वाले सवाल और दोनों पेपर 200- 200 अंक के होते हैं और नेक्स्ट राउंड में जाने के लिए आपको एग्जाम को क्लियर करना बहुत ही जरूरी है।

2. द मेन एग्जाम (The Main exam)-

इसके  बाद जैसे ही आप पहले एग्जाम को क्लियर कर लेते हैं उसके बाद मेन एग्जाम क्लियर करना होता है जो कि बहुत ही मुश्किल होता है इसमें आपको टोटल 9 पेपर देने होंगे जिसमें आपको (Written Exam) के साथ साथ इंटरव्यू में देना होगा यह एग्जाम थोड़ा मुश्किल होता है तो काफी कम लोग इस एग्जाम को क्लियर कर पाते हैं तो अगर आपको IPS OFFICER बनना है तो आपको अच्छे से और एग्जाम में टॉप मार्क्स लाने होंगे।

3.इंटरव्यू (Interview)-

जैसे ही आपके दोनों राउंड क्लियर हो जाएंगे उसके बाद आपको पर्सनल इंटरव्यू के लिए बुलाया जाएगा जो कि करीब 45 मिनट का होता है तो आपको इंटरव्यू क्लियर करना होगा और आपसे इंटरव्यू में काफी मुश्किल और ट्रिकी सवाल पूछे जाते हैं इसलिए आपको तैयार रहना होगा तभी आप एक काबिल IPS OFFICER बन पाएंगे।



How To Become IPS Officer Hindi. पहले (IPS OFFICER)

पुरुषों में

पुरुषों में सत्येंद्रनाथ टैगोर इंडियन सिविल सर्विस जॉइन करने वाले पहले भारतीय थे। वह प्रसिद्द कवि रविंद्रनाथ टैगोर के बड़े भाई भी थे। उन्हें लेखक, कवि और साहित्यकार के रूप में भी जाना जाता है।

उनका जन्म 1 जून, 1842 को कोलकाता में हुआ था। उन्होंने आगे चलकर महिलाओं के हित में अहम भूमिका निभाई। उनकी पढ़ाई प्रेसिडेंसी कॉलेज से हुई थी। साल 1859 में ज्ञानंदिनी देवी से उनकी शादी हुई थी। वे साल 1862 में आईसीएस की परीक्षा के लिए लंदन गए थे। उन्होंने 1863 में इंडियन सिविल सर्विस की परीक्षा पास की थी।

अपनी ट्रेनिंग पूरी करने के बाद वह भारत वापस आ गए थे। वह कवि, लेखक होने के साथ साथ एक साहित्यकार भी थे। उन्होंने कई संक्रमित भाषा की किताबों का बांग्ला में अनुवाद किया था। आज भी उन्हें याद किया जाता है।

महिलाओं में

महिलाओ में पहली IPS OFFICER- किरण बेदी भारतीय पुलिस सेवा में शामिल होने वाली पहली महिला थीं। उनका जन्म जन्म 9 जून 1949 को हुआ था। किरण बेदी एक भारतीय राजनीतिज्ञ, सामाजिक कार्यकर्ता, सेवानिवृत्त पुलिस अधिकारी और टेनिस खिलाड़ी हैं, जो 28 मई 2016 से 16 फरवरी 2021 तक पुडुचेरी की 24वीं उपराज्यपाल भी रहीं।

वह भारतीय पुलिस सेवा में अधिकारी बनने वाली पहली भारतीय महिला हैं और उन्होंने 1972 में अपनी सेवा शुरू की। वह 2007 में पुलिस अनुसंधान और विकास ब्यूरो के महानिदेशक के रूप में स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति लेने से पहले 35 वर्षों तक सेवा में रहीं।

किरण बेदी का जन्म अमृतसर में एक संपन्न पंजाबी बिजनेस फैमिली में हुआ था। उनकी परवरिश बहुत धार्मिक नहीं थी लेकिन उनका पालन-पोषण हिंदू और सिख दोनों परंपराओं में हुआ। वह एक ईसाई स्कूल- सेक्रेड हार्ट कॉन्वेंट में शिक्षित हुई थीं। बेदी ने अन्य पाठ्येतर गतिविधियों के बीच राष्ट्रीय कैडेट कोर (एनसीसी) में भाग लिया था।

जब वह 9वीं कक्षा में थी, तब उन्होंने कैंब्रिज कॉलेज में एडमिशन लिया था। उन्होंने दिल्ली के चाणक्यपुरी इलाके में एक सहायक पुलिस अधीक्षक (एएसपी) के रूप में अपना करियर शुरू किया और साल 1979 में राष्ट्रपति पुलिस पदक जीता। इसके बाद, वह पश्चिमी दिल्ली चली गईं, जहां उन्होंने महिलाओं के खिलाफ अपराधों को मिटाने की कोशिश की थी। आज भी उनका नाम बड़े अदब से लिया जाता है।


BDO Officer Kaise Bane In Hindi.


सबसे युवा

सबसे युवा (IPS OFFICER)- सफीन हसन देश के सबसे युवा आईपीएस ऑफिसर हैं। उनका जन्म 21 जुलाई, 1995 को गुजरात के पालनपुर जिले में हुआ था। घर की आर्थिक स्थिति शुरू से ही खराब होने की वजह से उनकी फैमिली काफी परेशानी का सामना कर रही थी। उनकी शुरुआती पढ़ाई-लिखाई एसकेएम हाईस्कूल, पालनपुर से हुई थी। इसके बाद, उन्होंने Ascent School of Science से उच्च शिक्षा हासिल की थी।

उन्होंने Sardar Vallabhbhai Patel National Institute of Technology, सूरत से इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कम्यूनिकेशन में बीटेक किया था। उन्होंने जून, 2016 में अपनी तैयारी शुरू की थी। वह यूपीएससी और जीपीएससी की परीक्षा में भी बैठे थे। उन्होंने यूपीएससी की लिखित परीक्षा 570वीं रैंक के साथ पास की थी। इसके बाद वह गुजरात पीएससी में भी पास हो गए थे।उन्होंने गुजरात के जामनगर में पहली पोस्टिंग ली थी.



ट्रेनिंग (Training)

आईपीएस अधिकारियों को दी जाने वाली ट्रेनिंग प्रक्रिया काफी कठिन होती है। यह कई चरणों में पूरी की जाती है। इस प्रक्रिया को पूरी कराने के लिए ट्रेंड ऑफिसरों को नियुक्त किया जाता है। वे इन नए अधिकारियों को प्रशासनिक गतिविधियों की पूरी जानकारी देते हैं। आईपीएस की ट्रेनिग भी IAS और Central Civil Services के साथ ही होती है। इन सभी का चयन UPSC द्वारा किया जाता है। IPS ट्रेनिग के कई पड़ाव हैं।

नए अधिकारियों को पहले अकादमी में फिर फील्ड में और फिर से अकादमी में ट्रेनिंग दी जाती है। इस ट्रेनिंग का मुख्य उद्देश्य IPS प्रशिक्षुओं को अगले स्तर की चुनौतियों के लिए तैयार करना होता है।

How To Become IPS Officer Hindi – रैंक (Rank)

भारतीय पुलिस में अलग-अलग रैंक के अफसर होते हैं। हालांकि, ज्यादातर लोग इस बारे में नहीं जानते हैं। अलग अलग रैंक पर पोस्टिंग के लिए मेरिट मायने रखता है। मेरिट और अनुभव के आधार पर ही इन रैंकों पर बहाली की जाती है। हर साल हजारों की संख्या में लोग पुलिस ज्वाइन करते हैं। ऐसे में आइये, पुलिस में अलग-अलग रैंक के बारे में संक्षिप्त में जानते हैं।

  1. पुलिस कांस्टेबल- पुलिस विभाग में कांस्टेबल का पद छोटा होता है. उसके कंधे पर कोई सितारा नहीं होता है और उसकी वर्दी के कंधे पर साधारण पट्टी होती है।
  2. हवलदार- इस पद पर कार्यरत पुलिसकर्मी के कंधे पर सफेद पट्टियां लगी होती हैं।
  3. असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर (ASI) -एसिस्टेंट सब इंस्पेक्टर के कंधे पर एक स्टार होता है।
  4. सब इंस्पेक्टर- सब इंस्पेक्टर की वर्दी पर दो स्टार लगे होते हैं।
  5. इंस्पेक्टर- इंस्पेक्टर की वर्दी पर तीन स्टार लगे होते हैं। इन स्टार्स का रंग पीला होता है।
  6. इसके बाद डिप्टी सुपरिटेंडेंट ऑफ पुलिस (CO) या सर्किल ऑफिसर का पद आता है।
  7. एडिशनल सुपरिटेंडेंट ऑफ पुलिस- इस पद के ऑफिसर के कंधे पर सिर्फ अशोक की लाट होती है।
  8. सुपरिटेंडेंट ऑफ पुलिस – इस पद पर तैनात आईपीएस अधिकारी के कंधे पर अशोक की एक लाट होती है।
  9. सीनियर सुपरिटेंडेंट ऑफ पुलिस (SSP) इस पद पर तैनात IPS अधिकारी के कंधे पर अशोक की लाट और 2 स्टार होते हैं।
  10. डेप्युटी इंस्पेक्टर जनरल ऑफ पुलिस (DIG)- इस पद पर तैनात अधिकारी की वर्दी पर अशोक की लाट के साथ तीन स्टार भी होते हैं।
  11. इंस्पेक्टर जनरल ऑफ पुलिस (IG)- इस प्रशासनिक अधिकारी की वर्दी पर दो तलवारों के साथ एक स्टार होता है।
  12. आईजी से ऊपर एडिशनल डायरेक्टर जनरल ऑफ पुलिस होते हैं। उनकी वर्दी पर अशोक की लाट के साथ दो तलवारें होती हैं।
  13. पुलिस विभाग में सबसे ऊपर डायरेक्टर जनरल ऑफ पुलिस होता है। इन्हें डीजीपी भी कहते है। उनकी वर्दी पर अशोक की लाट के साथ दो तलवारें होती हैं।


यूनिफार्म (Uniform)

How To Become IPS Officer Hindi, आईपीएस की यूनिफार्म की बात करे तो सभी पोस्ट में यूनिफार्म का अलग महत्व है।

Director of Intelligence Bureau या IB की वर्दी पर एक अशोक स्तंभ एक स्टार और एक तलवार व एक बैटन लगाते हैं जो आपस में क्रॉस में लगे होते हैं। साथ ही नीचे आईपीएस (IPS) लिखा होता है।

पुलिस कमिश्नर (राज्य) या  डीजी अपनी वर्दी पर एक अशोक स्तंभ और एक तलवार व एक बैटन लगाते हैं जो आपस में क्रॉस में लगे होते हैं। उसी के साथ ही नीचे आईपीएस (IPS) लिखा होता है.

जॉइंट कमिश्नर या डिप्टी इंस्पेक्टर जनरल या पुलिस आयुक्त की वर्दी पर एक अशोक स्तम्भ और तीन स्टार लगे होते हैं और उसी के साथ ही आईपीएस (IPS) लिखा होता है।

Additional Deputy Commissioner या Additional Superintendent of Police की वर्दी पर एक अशोक स्तम्भ होता है और उसके नीचे भी आईपीएस (IPS) लिखा होता है।

Assistant Superintendent of Police (ASP) की dress पर दो star लगे होते हैं और IPS लिखा होता है। यह प्रोबेशनरी रैंक होती है जो दो साल की नौकरी वालों की वर्दी पर होते हैं।

एएसपी भी ऊंचा पद होता है एएसपी (ASP) का एसएसपी की वर्दी पर एक अशोक स्तंभ और दो स्टार लगे होते है।

Assistant Superintendent of Police से उच्च पद Superintedent Of Police (SP) का होता है। SP की वर्दी पर एक अशोक स्तंभ और एक स्टार लगा होता है।

Additional Deputy Commissioner या Additional Superintendent of Police का पद डीएसपी (DSP) से उच्च का होता है। एएसपी की वर्दी पर एक अशोक स्तंभ होता है।

Deputy Superintendent of Police (DSP) की वर्दी में कंधे पर तीन स्टार लगे होते हैं।

Sub Inspector  की वर्दी दो स्टार लगे होते हैं साथ ही ASI की वर्दी की तरह एक नीले और लाल रंग की स्ट्रिप लगी होती है।

IPS Officer Salary

IPS Officer Salary, IPS का वेतन IPS अधिकारियों के ग्रेड द्वारा नियंत्रित होता है। अपनी सर्विस में वर्षों की संख्या के आधार पर IPS अधिकारियों को ग्रेड दिए जाते हैं। IPS अधिकारियों को उनके वर्षों  के Experience के आधार पर regular रूप से उच्च ग्रेड में upgrade  किया जाता है। कभी-कभी उनके प्रदर्शन के आधार पर उन्हें प्रमोट भी किया जाता है।

IPS सैलरी स्ट्रक्टचर को 8 ग्रेड में बांटा गया है। इसमें बेसिक पे, ग्रेड पे, महंगाई भत्ता  (Dearness Allowance (DA), हाउस रेंट अलाउंस (House Rent Allowance (HRA), चिकित्सा भत्ता (Medical Allowance), वाहन भत्ता (Conveyance Allowance) शामिल हैं।



How To Become IPS Officer Hindi – इंस्टीट्यूट (Institute)

अगर आप आईपीएस बनने की तैयारी करना चाहते है और आपको समझ नहीं आ रह कि कौन से इंस्टिट्यूट से तैयारी करे तो, आज हम आपको 5 बेस्ट  इंस्टिट्यूट के बारे में बताएंगे जहां से आप अपने सपनो को  पूरा कर  सकते है।

  1. Plutus IAS Academy- Hyderabad.
  2. Vedanta IAS Academy- Delhi.
  3. Analog Institute- Bangalore.
  4. Apti Plus Academy- Kolkata.
  5. Chanakya IAS Academy.

FAQ

Q) आप आईपीएस ऑफिसर क्यों बनना चाहते हैं?

Ans.उस कारण को उदाहरण के साथ बताए जिनका आपके जीवन पर प्रभाव पड़ा, जिससे आपने  भारतीय पुलिस सेवा को चुना।

अगर आप एक pattern के साथ नहीं आ रहे है तो यदि आप आईपीएस अधिकारी बन जाते है तो आप कौन से सुधार या परिवर्तन ला सकते है, जिससे आपके और अन्य लोगों के जीवन में सुधार कर सकते है।

Q) किस उम्र में आईपीएस बन सकते है ?

Ans. सभी के लिए Minimum Age Limit 21 साल  है।

Q) उम्र में  कितनी आरक्षण मिलती है ?

General Class के लिए Maximum Age Limit 32 साल है।

अन्य Backward Class के लिए Maximum Age Limit 35 साल है।

अनुसूचित जाति एवं जनजाति (Scheduled Castes and Tribes) के लिए Maximum Age Limit 37 साल है।

निष्कर्ष

IPS OFFICER बनना कोई आसान काम नहीं है। IPS OFFICER बनने में और कहने में जमीन आसमान का फर्क है। अगर आप ने दृढ़ संकल्प कर लिया तो आपको IPS OFFICER बनने से कोई भी नहीं रोक सकता। अगर आपने देश प्रेम और समाज सेवा की भावना है तो आपके लिए IPS OFFICER बनना बेहद आसान हो जाएगा।

हमने आपको इस Article How To Become IPS Officer Hindi, में इस क्षेत्र से जुड़ी महत्वपूर्ण बातों के बारे में बताया जैसे  IPS OFFICER K BANEIN, FIRST IPS OFFICER, EXAM DETAILS, UNIFORM, RANK, TRAINING, SALARY, INSTITUTE IN HINDI.

हमें आशा है की आपको हमारा आर्टिकल पसंद आया होगा और आपको  IPS OFFICER बनने के लिए प्रोत्साहन मिला होगा। लेकिन फिर भी आपको कोई और सवाल जानना है तो हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट करें और साथ ही बताएँ कि आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी कैसी लगी।

और पड़े:

IAS Topper Kaise Bane.

Free Blog कैसे बनाये। Step by Step Guide.

Google Sheet Kya Hai| Google Spreadsheet In Hindi.

Best Google Chrome Extensions In Hindi.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here