Kavya Ramachandran Biography In Hindi

Kavya Ramachandran Biography In Hindi. कैडबरी के नए विज्ञापन में जो लड़की क्रिकेट खेलते देखी जा रही है उसका नाम है काव्या रामचंद्रन। आज हम इस पोस्ट में जानेंगे काव्य रामचंद्रन की जीवनी और उनसे जुड़े कुछ महत्वपूर्ण बातों के बारे में.

कैडबरी डेरी मिल्क अभी हाल में ही अपना एक नया विज्ञापन जारी किया है। इस विज्ञापन ने दर्शकों का दिल जीतने में कामयाबी हासिल की है। इस विज्ञापन को जेंडर गैप (लैंगिग असमानत) पर करारे जवाब के तौर पर देखा जा रहा है। इस वजह से इन दिनों कैडबरी का यह नया विज्ञापन काफी चर्चा का विषय बना हुआ है।

कैडबरी के इस नए ऐड का वीडियो को देखने के बाद कैडबरी ऐड में क्रिकेटर के रोल में दिखने वाली लड़की के बारे में लोग जानना चाहते हैं। आज हम जानेंगे कैडबरी के वीडियो में क्रिकेट खेलते दिखाई गई इस लड़की के बारे में। तो बता दे कि कैडबरी के इस नए विज्ञापन में क्रिकेट खेलते दिखाएं देने वाली लड़की का नाम काव्या रामचंद्रन है।

Kavya Ramachandran In Cadbury Ad

कैडबरी की इस विज्ञापन की खास बात यह है कि इसका पहला विज्ञापन 1993-94 में जब आया था तो उस समय काव्य रामचंद्रन का जन्म हुआ था। कैडबरी का यह विज्ञापन 1994 के विज्ञापन का ही रिक्रिएशन है। उस समय भी कैडबरी के उस विज्ञापन ने भी काफी चर्चा बटोरी है। 1994 विज्ञापन में क्रिकेटर की भूमिका एक लड़के ने निभाई थी तथा स्टेडियम में उसकी गर्लफेंड (एक लड़की) कैडबरी मिल्क खाते हुए उत्साह वर्धन करते दिखाई गई थी। लेकिन 2021 का विज्ञापन थोड़ा अलग है। इस नए विज्ञापन में क्रिकेटर का रोल एक लड़की ने किया है।

Cadbury Old Ad

कैडबरी का पुराना विज्ञापन (1993)काफी लोकप्रिय हुआ था क्योंकि देश में उन दिनों क्रिकेट का सुरूर चढ़ा हुआ था। साल 2021 के इस विज्ञापन में अलग यह है कि पुराने विज्ञापन की सिमोनी राशि की जगह पर लड़की का किरदार काव्या रामचन्द्रन निभा रही हैं। वह भी क्रिकेटर के रूप में।

बता दें कि 1990 के दशक का कैडबरी का विज्ञापन मॉडल सिमोनी राशि पर फिल्माया गया था। वह विज्ञापन उन दिनों युवाओं के बीच काफी लोकप्रिय हुआ था। 1994 के विज्ञापन में सिमोनी राशि हाथ में कैडबरी डेरी मिल्क लेकर क्रिकेट मैच देखते हुए दिखाई गई थी। जब उनका बॉयफ्रेंड क्रिकेटर छक्का मारता है तो इसका जश्न मनाने के लिए वह खुशी से नाच उठती है और पिच की तरफ दौड़ पड़ती है। बता दे कि यह विज्ञापन एक सच्ची घटना पर आधारित था।

उस विज्ञापन में बैकग्राउंड में एक गाना चल रहा होता है, जिसके बोल होते है “असली स्वाद जिंदगी का..”। नए विज्ञापन में भी इसी गाने को प्रयोग किया गया है। लेकिन इसमें थोड़ा बदलाव किया गया है। इसमें क्रिकेटर की भूमिका लड़की ने निभाई है और स्टेडियम में उसका बॉयफ्रेंड बैठा है जो कि कैडबरी डेयरी मिल्क खा रहा होता है। प्रभजीत सिंह इसमे लड़के का किरदार निभाया है।

Kavya Ramachandran Biography In Hindi – Cadbury New Girl Kavya

काव्या बताती है कि वह इसके पहले इस विज्ञापन को कभी नही देखा था। इस विज्ञापन को उन्होंने उस वक्त देखा जब कास्टिंग डायरेक्टर ने उन्हें वह वीडियो एक रेफरेन्स के तौर पर भेजा। एक इंटरव्यू में उन्होंने बताया कि “एक बार मुझे सिलेक्ट कर लिया गया और जब वीडियो भेजा गया तभी मैने कैडबरी की ओर से पुराने विज्ञापन को देखा। उस समय उनके ऊपर दबाव की वजह से डर था क्योंकि उस विज्ञापन को फिर से कुछ बदलाव के साथ रिक्रिएट किया जा रहा था। 

काव्या बताती हैं कि जब पहली बार वह शूटिंग के लिए मुम्बई के शूटिंग सेट पर पहुँची तब उन्हें इस प्रोजेक्ट की गंभीरता के बारे में एहसास हुआ। 

कैडबरी गर्ल काव्या रामाचंद्रन का परिचय – कैडबरी के नए विज्ञापन में क्रिकेट के मैदान पर सिक्सर लगाती लड़की का नाम काम्या रामचंद्रन है। वह मूलरूप से चेन्नई की रहने वाली है। काव्य के पिता का नाम रामचंद्रन है तथा उनकी माता का नाम संगीता है। काव्य के माता-पिता दोनों ही कोच्चि में रहते हैं। वह चेन्नई के कोच्चि की रहने वाली है। काव्या की बड़ी बहन मलयाली एक्ट्रेस श्रुति रामचन्द्रन को हम सब जानते ही हैं।वह एक एक्ट्रेस होने के साथ ही स्क्रीन राइटर भी है। उन्होंने हाल में रिलीज हुई फिल्म  ‘कोनेकेन’ में काम किया है।

 बात करें अगर काव्या रामचन्द्रन की तो वर्तमान समय में वह मुख्य रूप से एक शिक्षिका है। साथ ही वह एक बेहतरीन तैराक भी हैं। इसके अलावा काव्य रामचंद्रन की पहचान एक अभिनेत्री के रूप में भी होती है। उन्होंने कई सारे थिएटर भी किए हैं। 

बता दें कि कैडबरी डेयरी मिल्क के नए विज्ञापन में काफी रामचंद्रन एक महिला क्रिकेटर की भूमिका निभा रही है। कैडबरी के इस नए विज्ञापन में बैकग्राउंड में “असल स्वाद जिंदगी” का Song चल रहा होता है और वह एक मैच विनिंग शॉट लगाती है। आज उनकी पहचान एक Teacher, एक Theater Artist तथा एक Swimmer के रूप में होती है।

Kavya Ramachandran Biography In Hindi – शिक्षा –

काव्या रामचंद्रन का जन्म भले ही चेन्नई में हुआ। उन्होंने अपनी पढ़ाई चेन्नई के कोच्चि से पूरी की है। काव्या ने इकोनॉमिक्स (अर्थशास्त्र) में चेन्नई स्थित स्टेला मैरिज से स्नातक की डिग्री हासिल की। 

काव्या को एक्टिंग में दिलचस्पी थी। इस लिए वह थ्रियेटर वगैरह में भी हमेशा बचपन से ही सक्रिय रहने लगी थी। पढ़ाई पूरी करने के बाद काव्या रामचंद्रन बेंगलुरु में स्थित एक स्वयंसेवी संगठन में काम करना शुरू कर देती हैं।

कैरियर – 

काव्या रामचंद्रन पढ़ाई पूरी करने के बाद एक स्वयंसेवी संगठन में काम करने के साथ ही थिएटर भी करने लगती हैं। वह बेंगलुरु में स्थित एक स्वयंसेवी संगठन में स्नातक की पढ़ाई पूरी करने के बाद काम करना शुरू कर दी थी। एक बार वह मुंबई आती है और मुंबई में कुछ वक्त बिताने बाद वह वापस चेन्नई लौट आई और थिएटर से जुड़ गई। उन्होंने कई सारे थ्रियेटर किए हैं। 

इसी दौरान देशभर में कोरोना की दूसरी लहर देखी गई। कैडबरी ने अपने प्रोडक्शन हाउस गुड मॉर्निंग के लिए एक विज्ञापन तैयार किया। कैडबरी के इस नए विज्ञापन का निर्देशन प्रशांत चतुर्वेदी कर रहे थे जो इसके निदेशक भी थे। उन्होंने अपने एक्सपीरियंस के आधार पर काव्या  रामचंद्रन को ऑडियंस के लिए बुलाया। काव्या रामचंद्रन को ऑडियंस का निमंत्रण गायत्री नामक एक कास्टिंग डायरेक्टर के जरिए भेजा गया था।

Kavya Ramachandran Biography In Hindi – विज्ञापन करने के लिए क्रिकेट कोचिंग कैंप ज्वाइन किया – 

कैडबरी के नए विज्ञापन में देखी जाने वाली क्रिकेटर काव्य रामचन्द्रन बताती हैं कि जब उन्हें इस विज्ञापन के लिए कास्ट किया गया था तो वह क्रिकेट सीखने के लिए कोचिंग कैंप ज्वाइन करती है। काव्या बताती है कि वह वैसे तो कई सारे खेल खेलती है। उन्हें खेलना पसंद भी है। लेकिन उन्हें क्रिकेट खेलना बिल्कुल भी नहीं आता था। विज्ञापन के पहले वह क्रिकेट सिर्फ टीवी पर ही देखी थी।

लेकिन कैडबरी के विज्ञापन में उन्हें एक महिला क्रिकेटर का किरदार निभाना था। इसके लिए उन्हें क्रिकेट सीखना पड़ा और क्रिकेट सीखने के लिए उन्हें कोचिंग कैंप में भी भेजा गया। काव्या बताती हैं कि कैडबरी के इस विज्ञापन की शूटिंग साल 2020 में सितंबर में शुरू हुई थी। इसकी शूटिंग मुंबई के ब्रेबोर्न स्टेडियम में की गई है। वह बताती हैं कि पहले दिन की शूटिंग जब खत्म हुई तो बारिश होने लगी थी और पिच कुछ गीली हो गई थी। इसलिए उन्हें वापस चेन्नई लौटना पड़ा था। उसके 3 दिन बाद वह फिर से वापस मुंबई आ कर विज्ञापन को पूरा किया।

काव्या बताती हैं कि जब उन्हें कैडबरी के नए विज्ञापन में कास्ट किया गया था तब उन्हें कैडबरी का 1994 वाला पुराना वीडियो दिखाया गया। उन्होंने इस वीडियो को कई बार देखा। क्योकि पुराने विज्ञापन के कुछ दृश्य को फिर से शूट किया जाना था। 



विज्ञापन महत्व का नही था अंदाजा –

काव्या रामचंद्रन विज्ञापन के बारे में बताती हैं कि उन्हें यह बात बहुत अच्छे से पता थी कि यह 1993-94 के कैडबरी विज्ञापन का रीमेक है। लेकिन उन्हें विज्ञापन के महत्व और इसके साइज के बारे में बिल्कुल भी जानकारी नही थी। वह बताती हैं कि कैडबरी ने जिस दिन अपना विज्ञापन निकाला पहले ही दिन कुछ लोगों ने उन्हें इंस्टाग्राम पर टेक्स्ट मैसेज डालें और कुछ ही दिनों में इंस्टाग्राम और सोशल मीडिया साइटों पर उनको सर्च किया जाने लगा और हर जगह उनकी चर्चा होने लगी।

काव्या बताती है कि तब जाकर उन्हें इस बात का एहसास हुआ कि इस विज्ञापन में क्या था। इस विज्ञापन का महत्व पता चला। काव्या रामचंद्रन कैडबरी के इस नए विज्ञापन को करने के लिए खुद को लकी मानती है। वह लोगों द्वारा मिल रही प्रतिक्रिया से भी बेहद उत्साहित हैं। काव्या  रामचंद्र कहती हैं कि इतने बड़े विज्ञापन का हिस्सा बनने के लिए मैं खुद को बेहद lucky समझती हूँ।

Kavya Ramachandran Biography In Hindi – काव्या रामचंद्रन एक तैराक के रूप मे

काव्या रामचन्द्रन बताती हैं कि वह स्कूल के टाइम से ही एक बेहतरीन तैराक रही है। जब वह चौथी कक्षा में पढ़ती थी तब से ही वह तैराकी की कई प्रतियोगिता में हिस्सा लेना शुरू कर दिया था। वह बताती है कि 9th तथा 10th क्लास में उन्होंने राष्ट्रीय स्तर की तैराकी प्रतियोगिताओं में हिस्सा लिया। लेकिन स्कूली शिक्षा पूरी करने के बाद जब वह कॉलेज पहुंचती तो वह तैराकी को पूरी तरह से बंद कर दी थी।  काव्या रामचंद्रन ने आगे बताती हैं कि उन्हें तैराकी पसंद थी इसलिए उन्होंने करीब 7 साल बाद 2019 से फिर से तैराकी करना शुरू कर दिया। 

काव्या रामचन्द्रन ने तैराकी को फिर से शुरू करने के बारे में बताती हैं कि जब मास्टर्स नेशनल के लिए उन्होंने प्रशिक्षण लेना शुरू किया था उस समय जो थ्रियेटर हो रहा था उसमें फिटनेस की बेहद जरूरत होती थी। इसलिए वह फिर से तैराकी को अपनी फिटनेस के लिए शुरू कर दी। वह बताती है कि पिछले साल बड़ौदा में हुए राष्ट्रीय प्रतियोगिता में उन्होंने 100 मीटर बटरफ्लाई तैराकी में गोल्ड मेडल भी जीता था.



काव्या रामचन्द्रन : थ्रियेटर एक्ट्रेस

काव्या रामचंद्रन थ्रियेटर एक्ट्रेस के रूप में भी जानी जाती है। वह चेन्नई स्थित लिटिल स्ट्रीट के एक छोटे से समूह से जुडी हैं। अपनी टीम के बारे मे काव्या रामचंद्रन बताती हैं कि जब वह कॉलेज में पढ़ाई करती थी, उस समय से ही वह थ्रियेटर से जुडी है और उस समय उन्होंने एक नाटक भी किया था। बाद में वह और दूसरे काम में व्यस्त हो गई थी। लेकिन जब वह चेन्नई वापस आती है तो वह फिर से लिटिल थियेटर नामक समूह से जुड़ जाती हैं।

 काव्या रामचंद्रन ने अपने थिएटर कैरियर में कई सारे अंतरराष्ट्रीय नाटकों और समारोहों में भाग लिया है। काव्या रामचंद्रन को बच्चों के लिए होने वाली थिएटर में विशेषता हासिल है। 

काव्या रामचन्द्रन ने एक्टिंग करने के साथ-साथ कई नाटक का निर्देशन भी कर चुकी हैं। वह कहती है कि रंगमंच एक ऐसी चीज है जिसमें बहुत ही आनंद आता है। वह अपने नाटक के बारे में बताती हैं कि उनके नाटक स्क्रिप्ट से नहीं बनाए जाते हैं बल्कि परिस्थितियों के साथ खुद-ब-खुद धीरे-धीरे अपने आप ही विकसित होते हैं।

 अपने फिल्मी कैरियर को ले कर काव्य रामचंद्रन कहती हैं कि अभी तक उनके पास फिल्मों में एक्टिंग करने के लिए कोई ऑफर नहीं आया है। लेकिन वह कहती हैं कि अगर उनके पास फिल्मों में काम करने का ऑफर आएगा तो वह जरूर करेंगे। वह अच्छे ऑफर का इंतजार कर रही है।

Kavya Ramachandran Biography In Hindi – काव्या रामचन्द्रन एक शिक्षिका के रूप में –

काव्या रामचन्द्रन को बचपन से ही शिक्षा और शिक्षण में रुचि रही है। इसकी वजह यह है कि वह कई सारे शिक्षकों से प्रेरित हुई है। शिक्षा के क्षेत्र से हमेशा जुड़े रहने की वजह से उनका रुझान इस क्षेत्र में बना रहा। वह इस क्षेत्र में काफी लंबे समय से है। हालांकि अभी तक उन्होंने यह सुनिश्चित नहीं किया है कि उन्हें क्या करना है? वह अपने  शिक्षण कैरियर के बारे में बताते हैं कि शिक्षण हमेशा रंगमंच और अभिनय के साथ साथ चलता रहेगा। वह टीच फॉर इंडिया की हर चीज का हिस्सा रही है।

काव्या रामचन्द्रन ने ‘सुखा एजुकेशन फाउंडेशन’ की शुरुआत भी की है। यह फाउंडेशन उन्होंने को फाउंडर संजना विजय के साथ शुरू किया है। मूलरूप से इस फाउंडेशन को शुरू करने का विचार संजना विजय के मन में ही आया था। कुछ औपचारिकताओं को पूरा करने के बाद काव्या रामचंद्रन इस फाउंडेशन से जुड़ गई।

वह बताती है कि कुछ फॉर्मेलिटी को पूरा करने के साल 2020 के अंत मे इसे आधिकारिक रूप से लांच कर दिया था। ‘सुखा’, शिक्षा और रोजगार के बीच की खाई को पीटने वाला फाउंडेशन है। 

अपने इस ‘सूखा फाउंडेशन’ के बारे में काव्या बताती है कि यह एक ऐसा फाउंडेशन है जहां पर पढ़े लिखे लोगों को प्रशिक्षण दिया जाता है। इसमें लोगों को यह बताया जाता है कि आपको इंटरव्यू कैसे फेस करना है। अपना सीवी कैसे तैयार करना है और यदि आपको अंग्रेजी बोलने का अनुभव नही है तो इंटरव्यू के दौरान आपको किस तरह से अंग्रेजी बोलनी है।

वर्तमान समय में काव्या  रामचंद्रन के सुखा फाउंडेशन में 40 छात्र और 6 शिक्षक इसका हिस्सा है। काव्या ने इस बात की उम्मीद जताई है कि इस साल के अंत तक कोच्चि में एक नया अध्याय इस फाउंडेशन का खोला जाएगा।

निष्कर्ष

Kavya Ramachandran Biography In Hindi.कैडबरी के इस विज्ञापन में दिखाया जाने वाला दृश्य कुछ इस प्रकार से है :-

क्रिकेट का मैदान है। क्रिकेट मैच का उत्साह दर्शकों में देखा जा रहा है। दर्शक मैच के नतीजों को लेकर चिंतित नजर आ रहे हैं। पिच पर बल्लेबाजी करते हुए एक लड़की को दिखाया गया है। जिसे एक युवक (उसका बॉयफ्रेंड) हाथ में चॉकलेट लेकर प्रोत्साहित कर रहा है। साथ ही बैकग्राउंड में एक गाना बज रहा है। लड़की मैच का विनिंग शॉट लगाती है। तब उसका बॉयफ्रेंड (लड़का) इस जीत का जश्न मनाते हुए कैडबरी खाते हुए दिखाई दे रहा है।

कैडबरी का यह विज्ञापन उस समय आया है जब देश भर में लैंगिक समानता की चर्चा हो रही है। 1990 के दशक में आये कैडबरी के विज्ञापन को फिर से थोड़ा सा बदलाव के साथ 2021 में रिलीज किया गया है। 1993 में आये विज्ञापन में क्रिकेट खेलते हुए एक लड़के को दिखाया गया था तथा स्टेडियम में उसकी गर्लफ्रेंड को कैडबरी खाते दिखाया गया था। इस बार लड़की को क्रिकेटर के रूप में दिखाया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here