Web Server Kya Hai

Web Server Kya Hai.आज के समय मे server के बारे में अधिकतर लोगों ने सुना होगा। लेकिन बहुत से लोग ऐसे है जो कि server के बारे में सही से जनते नही है। वो केवल इतना जानते ही कि servers internet चलाने के लिए जरूरी है।

Server एक ऐसी चीज़ होती है जहाँ की data store होता है। जरूरत पड़ने पर वो data users को send किया जाता है ताकि उनको जानकारी प्राप्त हो सके जो भी वो internet पर ढूंढ रहे है।

ये server information bank की तरह होते है और यहाँ पर अनेक प्रकार के information data के रूप में store रहता है। server के बदौलत ही internet काम करता है और data को एक जगह से दूसरी जगह पहुचाता है।

ये Server भी एक तरह का computer ही होता है जो कि web server software पर run करता है और protocol की मदद से दूसरे server से communicate करता है।

आप ने अक्सर google पर कुछ जानकारी related search किया होगा और google ने ढूंढ कर result आपके सामने पेश किए होंगे और आप ने उन पर click करके website पर visit किया होगा, जहां आपकी जरूरत की information मिल गयी होगी।

लेकिन जिस website पर आप गए थे वो भी किसी न किसी server पर राखी गयी है। ये server 24 hours online रहते है ताकि कोई भी व्यक्ति कभी भी websites पर visit कर सके। और एक server का उपयोग अनेक प्रकार के websites, के लिए किया जाता है और ये servers online games और streaming platform के लिए भी बनाए गए होते है।

तो चलिए अब विस्तार से जानते है कि server क्या होता है और यह कैसे काम करता है। इसके उपयोग क्या है। और server कितने प्रकार के होते है।

Web Server Kya Hai.

Web server भी एक प्रकार का computer ही होता है जिसमे में एक खाश प्रकार का software होता है। जो कि web pages को अपने पास store रखता है और उसको client के request पर browser को deliver करता है। यह servers internet के साथ जुड़े होते है।

और ऐसे ही दुनिया के अलग अलग जगहों पर मौजूद server internet wire के द्वारा एक दूसरे से जुड़ कर सूचना को request के आधार पर user को send करते है। ये server कई प्रकार के होते है। जो कि जरूरत के अनुसार बनाए गए होते है जैसे कि hosting server, application server, mail server, storage server  आदि। जिसके बारे में हमने नीचे विस्तार से जानकारी प्रदान दी है तो आप उसे जरूर पढ़ें।

इन server से जानकारी प्राप्त करने और उन तक पहुंचने के बीच मे बहुत ही जटिल process होता है। जो कि केवल कुछ micro-seconds में ही पूरा हो जाता है। जिसको हमने नीचे detail में समझाया है कि server कैसे कार्य करता है।

आज के समय मे बड़े server का इस्तेमाल केवल companies करती है जो कि अपने apps और web services को provide करती है क्योंकि कि ऐसे websites या apps पर load अधिक होता है। और इनको manage करना भी मुश्किल होता है।

Web Server Kya Hai.How To Works Web Server

आज के समय मे web server का उतना ही महत्व है जितना कि internet का है। लेकिन maximum लोगो को internet के बारे में जानकारी है मगर web server कैसे काम करते है इसके बारे में नही तो अब आप ने web server क्या है इसके बारे में जानकारी हो गयी होगी, तो अब हम बताते है कि server कैसे काम करता है। इसको आप इन चरणों से समझिए।

Server से communicate करना जब आप अपने computer या mobile में browser की मदद से किसी website url को search करते है जैसे कि https://google.com तब आपके computer या mobile का browser उस website को host किए गए server के साथ communicate करता है। और उससे website के लिए data browser में download करने के लिए request करता है।

Url Breaking – जब आप browser में किसी भी url जैसे कि https://google.com को type करते है तो browser उस url को तीन हिस्सों में तोड़ता है जिसमें से पहला https होता है जो कि एक protocol है इसके बाद domain name होता है। यह सभी website के लिए unique होता है। इसके बाद आता है .com जो कि एक extension है।

Domain name को IP Address में बदलना अब आपका browser उस domain name को उसके ip address में convert करता है जोकि सभी domain name का unique होता है। और फिर उस के address के जरिए server को ढूंढता है और उससे जुड़ता है।

Send और receive request- जब आपका browser सही server को ढूंढ कर connect हो जाता है तो आपका browser आपकी request को server को भेजता है और उससे उस webpage की मांग करता है जो कि अपने search किया होता है।

तथा इस server में सभी files html के रूप में store होती है  और उस data को आपका browser web page में बदलता है और उस request को receive करता है। और फिर आपके computer browser में show करता है।

ये पूरा process इतनी तेजी से होता है कि आपको इतना सोचने का समय मे नही मिलता है। कि यह कैसे हुआ। और सोचने से पहले ही webpage अपके computer में दिख जाता है। तो उम्मीद करते है आपको अब पता लग गया होगा कि server कैसे काम करता है।

Web Server Types

Web Server Kya Hai. आज के समय मे web servers के कई प्रकार है। जो कि खाश कर अलग अलग purposes के लिए बनाए गए होते है। जैसे कि hosting के लिए और web sites के लिए ज्यादातर medium level के servers का use किया जाता है। जो कि performance wise अच्छे होते है।

लेकिन gaming server को high performance के लिए बनाया जाता है जो कि gaming को fast बनाते है। तो चलिए जानते है कि servers कितने तरह के होते है और उनके काम क्या है।

Web server- यह एक प्रकार का computer होता है। जिसमें की server software और hardware होता है। और यह special websites और उनके web pages को store और process करने के लिए बना होता है तथा यहाँ data HTML के रूप में save होता है।

इन server में भी hard drive, processor, Ram लगा होता है। जो कि किसी server की speed को decide करते है और यही website की speed के लिए भी जिम्मेदार होते है। साथ ही ये servers high internet से भी connected होते है। ताकि web pages को जल्दी से deliver कर सके users तक।

Proxy server- इसको proxy के नाम से भी जाना जाता है। और यह internet और user के बीच gateway का काम करता है तथा जब client इससे जुड़ता है और web pages के लिए request करता है तो उसको easy बनाने के लिए सभी complications को control करता है।

ये network data filtering, connection sharing और data caching करने के लिए client और external server के बीच मे mediator का काम करता है।

Application server- यह एक ऐसा server program होता है जो कि business के लिए application और database को संभालता है और उसको चलाता है। अपने आज के समय में कई ऐसे apps देखे होंगे जोकि online based होते है और केवल mobile पर चलते है और  computer पर accessible नही होते है।

ऐसे apps के लिए अलग किस्म का framework काम मे लाया जाता है और यह कोई प्रकार के होते है जैसे कि PHP, JAVA, .NET framework आदि। यहाँ पर किसी भी तरह के application को बनाया और उसको upgrade किया जाता है। और इसके लिए application server को use किया जाता है।

Game server- यह दूसरे servers से अलग थोड़े अलग होते है high performance के लिए बने होते है जिसमे की graphic processor भी लगे होते है। ताकि online gaming अच्छे से server पर हो सके।

File server- File server मुख्य रूप से network में किसी भी file को store करने की facility प्रदान करता है। तथा यह files कुछ भी हो सकते है जैसे कि photo, document, video या folder. इसको computer भी कहा जाता है क्योंकि यह data files को store और manage करता है। और इसी same network के अन्य computers तक भी पहुँच होती है।

Database server- यह एक ऐसा computer system program होता है, जो कि database से data को access करने और उसको दोबारा पाने के लिए अपनी सेवा प्रदान करता है।

यह एक गोदाम की तरह होता है जहाँ सारा data store रहता है और उसको maintain करके रखा जाता है ताकि जब किसी को इसकी जरूरत हो तो उसको provide किया जा सके।

FTP server- FTP का FULL FORM file transfer protocol होता है और यह online files को transfer करने का काम करता है। जब भी browser किसी webpage की request करता है तो browser इसी protocol का use करके file को download करता है। और आपको दिखता है।

Mail server- जैसा कि आपको इसके नाम से ही पता चल गया होगा कि यह mails को control, manage और distribute करने के लिए responsible होता है। इसको mail server transfer agent (MTA) और internet mailer के नाम से भी जाना जाता है।

आप जब भी कोई email send करते है तो वो email कई प्रकार के जटिल server की एक श्रृंखला से होकर गुजरता है। और receiver तक पहुँचता है।



Computer को web server में कैसे change कर सकते है।

Web Server Kya Hai.

आप अपने computer को आसानी से एक छोटे server के रूप में बदल सकते हैं। और उसका इस्तेमाल अपने website को develop और test करने के लिए कर सकते है। जिसका process बहुत ही आसान है।

आपको अपने computer में केवल web server का एक software install करना है जिसका नाम wampserver है। आप इस software को install करके और कुछ simple setup करके अपने computer को server के रूप में इस्तेमाल कर सकते है। लेकिन यह उस तरह के server के रूप में नही होगा जैसा कि आपको online मिलता है।

क्योंकि ये केवल development के लिए बनाया गया है। ना कि website traffic और अन्य चीज़ों को संभालने के लिए।

Web Server Kya Hai

एक अच्छा web server क्यो चुनना चाहिए।

आज के समय मे आपको कई प्रकार के companies मिल जाएगी, जो कि आपको सस्ते में web server service provide करती है। लेकिन web server हमेशा अच्छा और अपनी जरूरत के अनुसार ही चुनना चाहिए।

तो चलिए आपको कुछ points बताते है जो कि web server लेते वक्त आपको ध्यान में रखना चाहिए।

  • Web server लेने से पहले जांच ले कि वो 24×7 online रहता है कि नही।
  • क्या उनका web server secure है या नही इसकी भी जांच कर ले।
  • Server में कितनी storage है और क्या वो high speed है या नही यह भी देख ले। आप SSD storage वाला ही server चुने।
  • Server की computing power क्या है ये भी अपनी जरूरत के अनुसार जांच ले। ताकि आपको future में कोई problem न हो। क्योकि अगर आपको server game के लिए चाहिए।

तो ऐसे में आपको ज्यादा अलग और  computing power की जरूरत होगी और अगर simple website के लिए चाहिए तो normal server से काम चल जाएगा। लेकिन server हमेशा fast ही चुने।

Conclusion

इस post के द्वारा आप ने जाना कि Web Server Kya Hai. यह कैसे काम करता है। आपको कैसा server खरीदना चाहिए। और server कैसे आप तक data को भेजता है।

दोस्तों आज के समय मे internet की जरूरत सभी को है, क्योंकि इसकी मदद से कोई भी व्यक्ति information को जल्द से जल्द प्राप्त कर सकता है, दूसरो से communicate कर सकता है। लेकिन अपने यह जरूर सोचा होगा कि आखिर इतना data कहाँ मौजूद होता है।

जिसका जवाब हमने इस post में दिया है। यही database server होते है जो कि हम तक मौजूद जानकारी को provide करते है। तथा ये server 24 hours काम करते रहते है ताकि सूचना के आदान प्रदान में कोई problem न हो। लेकिन इसको maintain करने में काफी पैसा लगता है जो कि server companies इन server को use करने वालो से monthly rent के रूप में लेते है।

तो दोस्तों आप लोगो को हमारी यह जानकारी Web Server In Hindi कैसी लगी आप हमें अपनी राय जरूर दे। और इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ भी share करे, ताकि अधिक से अधिक लोग web server क्या है के बारे में जान सके।

ये भी पड़े :

Data टाइप क्या हैं.Data Type In Hindi

Operating System क्या है

Optical Fibre क्या है.काम कैसे करता है.Types Of Fibre Cable.

Metal Detector क्या हे.कहा कहा Use होता हे.Price And Importance.

Pawan Chakki क्या हे. Windmill Generate Energy.

सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग-Software Engineer

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here