Windows Recycle Bin Kya Hai? इससे फाइल को वापस कैसे लाएं

Windows Recycle Bin Kya Hai,क्या आपके साथ कभी ऐसा हुआ है की आपके कंप्युटर से आपका जरूरी फाइल गलती से delete हो गया और आप उसे फिर से वापस पाना चाहते हैं। ऐसे में आपको यदि recycle bin के बारे में जानकारी हो तो ये काम आप बड़ी आसानी से कर सकते हैं। लेकिन ये तभी होगा जब आपका file आपके कंप्युटर से permanently delete ना हुआ हो।

तो यदि आप recycle bin के बारे में नहीं जानते हैं और चाहते हैं की आपको भी इसका फायदा मिले तो आप इस आर्टिकल के साथ बने रहिए इससे आप recycle bin से file वापस लाने का तरीका सीख जाएंगे और इसका फायदा भी उठा सकेंगे।  

Windows Recycle Bin Kya Hai? Recycle bin in Hindi

रीसाइकल बिन एक तरह का विशेष folder है जिसमें delete किये हुए file store होते हैं और जरूरत पड़ने पर आप उन्हे वापस पा सकते हैं उसे यहाँ से भी delete कर सकते हैं। इसमें केवल ऐसे फाइल या डाटा store होते है जो file explorer से या temporary delete किए गए हों लेकिन यदि आप किसी डाटा को command prompt के जरिए delete करते हैं तो वो इसमें स्टोर नहीं होगा।

यदि आप किसी फाइल को delete करने के लिए shift+del का इस्तेमाल करते हैं तो वो हमेशा के लिए delete हो जाता है और वो भी recycle bin में store नहीं होता है। इतना ही नहीं इसमें केवल आपके कंप्युटर के hard drive से delete किया हुआ डाटा store होता है यदि आप किसी external storage जैसे pen drive, chip या अन्य storage से कोई डाटा डिलीट करते हैं तो वो इसमे store नहीं होगा।

रीसाइकल बिन में आप सेटिंग के जरिए ये सेट कर सकते हैं की इसमें कितना डाटा स्टोर हो सकता है। आप इसे properties में जाकर सेट कर सकते हैं। उदाहरण के लिए यदि आपने इसमें 1000mb सेट कर रखा है तो इसमें केवल उतना ही delete किया हुआ डाटा स्टोर हो सकेगा।

रीसाइकल बिन का हिंदी मतलब-Recycle bin meaning in Hindi

हिंदी में recycle bin को कचरे का डब्बा ख सकते हैं लेकिन यदि इसे अलग-अलग करके देखें तो recycle का मतलब होता है दुबारा इस्तेमाल के लिए बनाना और bin का मतलब कचरा। इससे recycle bin का हम हिंदी में ये meaning निकाल सकते हैं की ये दुबारा इस्तेमाल करने योग्य रखी हुई फाइलों का डब्बा है।

Windows Recycle Bin Kya Hai? – recycle bin ki history

वैसे रीसाइकल बिन को भिन्न-भिन्न रूपों में बनाने की कोशिश पहले से ही कई कंपनियों द्वारा चल रही थी लेकिन यदि Microsoft की बात करें तो इसने इसे पहली बार 1993-94 में अपने MS DOS 6 में delete sentry के नाम से इसे शुरू किया। इसमें जब कोई फाइल delete किया जाता था तो वो Hard drive के root में छिपे हुए SENTRY नाम के फ़ोल्डर में जाकर स्टोर हो जाता था।

और इसे GUI यानि graphical user interface में Microsoft ने 1995 में windows 95 operating system में recycle bin नाम से शुरू किया। इसमें default setting के अनुसार जब कोई file, recycle bin में 30 दिन से अधिक का होता था तो वो अपने से permanently delete हो जाता था।

उस समय recycle bin में केवल file स्टोर होता था लेकिन उसका subdirectory या pathway स्टोर नहीं होता था। जब भी कोई folder delete किया जाता तो सिर्फ उसके file के content रीसाइकल बिन में स्टोर होते थे।

रीसाइकल बिन को apple के operating system में trash या bin के नाम से जाना जाता है।


Google Sheet Kya Hai| Google Spreadsheet In Hindi.

Best Google Chrome Extensions In Hindi.

Computer की प्रकार.Types Of Computer.

15 August क्यों मनाया जाता है? Independence Day Of India.


रीसाइकल बिन को कैसे ओपन करें-recycle bin open kaise Karen

Windows में recycle bin को ओपन करना काफी आसान काम है आप इसे desktop या window explorer से ओपन कर सकते हैं। इसके अलावा आप इसे run dialog box के जरिए भी ओपन कर सकते हैं।

Windows में Recycle bin अपने से desktop पर मौजूद रहता है और इसे ओपन करने के लिए आपको बस इसपर क्लिक करना होता है।



फाइल डिलीट होने के बाद recycle bin से कैसे वापस पाए?

अगर आपका कोई फाइल गलती से delete हो गया या आपने जानबूझकर उसे डिलीट किया है और अब आप उसे पाना चाहते हैं तो इसके लिए बस आपको रीसाइकल बिन में जाना होगा और वहाँ से फाइल को restore करना होगा। चलिए इसे step-wise जानते हैं की आप कैसे फाइल को वापस ला सकते हैं।

  • सबसे पहले desktop पर बने recycle bin के icon पर क्लिक करके उसे ओपन करें। यदि आपके स्क्रीन पर recycle bin का icon नहीं दिख रहा है तो उसके लिए आगे मदद दी गई है
  • Recycle bin ओपन होने के बाद आप उस फाइल को ढूँढ़ें जो गलती से delete हो गया है
  • फाइल मिल जाने के बाद उस पर right click करें
  • अब आपको सबसे ऊपर “restore” का ऑप्शन देखने को मिलेगा उस पर क्लिक करें
  • अब आपका फाइल जहां से delete हुआ था वहीं पर फिर से स्टोर हो जाएगा.

यदि आपके desktop पर recycle bin का icon नहीं दिख रहा तो क्या करे

यदि आपके desktop पर recycle bin का icon नहीं दिख रहा है तो आप इसे setting के जरिए ला सकते हैं और फिर रीसाइकल बिन का इस्तेमाल कर सकते हैं। चलिए step-wise जानते हैं की आप ये काम कैसे कर सकते हैं।

  1. सबसे पहले window का logo बने हुए start बटन पर क्लिक करें
  2. सबसे बाएं साइड में setting के बटन पर क्लिक करें
  3. अब आपको “personalization” का ऑप्शन देखने को मिलेगा उस पर क्लिक करें
  4. अब themes पर click करें
  5. अब आपको related setting में दाहिने तरफ “Desktop icon setting” का ऑप्शन देखने को मिलेगा उस पर क्लिक करें
  6. आपके सामने icon की लिस्ट होगी उसमें recycle bin के सामने वाले box में क्लिक करें ताकि उसमें सही का चिन्ह आ जाए और साथ ही सबसे नीचे दिए हुए बॉक्स पर भी सही का निशान चेक करें जहां लिखा होगा “allow themes to change desktop icons”
  7.  अब सबसे नीचे “OK” के बटन पर क्लिक करें, आपका रीसाइकल बिन आपके desktop पर icon बनकर आ जाएगा।

नोट: ये तरीके window 10 operating system के अनुसार दिया गया है अन्य operating system में ये भिन्न हो सकता है।  

हमेशा के लिए recycle bin से फाइल को डिलीट कैसे करें

यदि आप चाहते हैं की आपका फाइल हमेशा के लिए delete हो जाए तो इसके लिए आप या तो रीसाइकल बिन में आकर उसे permanently delete कर सकते हैं या फिर original फाइल को shift+del के साथ डिलीट कर सकते हैं।

चलिए जानते हैं की आप recycle bin से कैसे फाइल को डिलीट कर सकते हैं।

  1. सबसे पहले recycle bin को ओपन करें
  2. अब फाइल को select करें जिसे हमेशा के लिए delete करना चाहते हैं
  3. उसके बाद right click करें और फिर delete पर click करें
  4. उसके बाद delete करने की पुष्टि के लिए “ok” पर क्लिक करें, अब आपका फाइल हमेशा के लिए delete हो जाएगा

यदि आप एक साथ पूरा recycle bin का data हमेशा के लिए delete करना चाहते हैं तो recycle bin open करके recycle bin tools पर क्लिक करें उसके बाद आपको empty the recycle bin का ऑप्शन मिलेगा उस पर क्लिक करें। हमेशा के लिए मिटाने की पुष्टि के लिए OK पर क्लिक करें और आपका पूरा recycle bin का डाटा delete हो जाएगा।

Windows Recycle Bin Kya Hai? – रीसाइकल बिन कि properties की सेटिंग

जैसा की हम आपको ऊपर बता चुके हैं कि रीसाइकल बिन में आप ये निश्चित कर सकते हैं की आप इसमें कितना डाटा स्टोर करेंगे। जैसे की यदि मान लीजिए आपने आपने इसे 10 gb सेट कर दिया तो इसमें सिर्फ 10gb डाटा ही स्टोर होगा।

जब इसमें 10gb full हो जाएगा उसके बाद यदि आप कोई फाइल डिलीट करेंगे तो उसे recycle bin में स्टोर होने के लिए सबसे पुराने डाटा को delete करना पड़ेगा। इसलिए चलिए जानते हैं की इसकी properties के जरिए इसके storage limit को कैसे सेट करते हैं।

  1. सबसे पहले रीसाइकल बिन ओपन करें और उसके बाद ऊपर recycle bin tools पर क्लिक करें
  2. अब recycle bin properties पर क्लिक करें
  3. अब आपके सामने एक dialog box ओपन होगा जिसमें आप दो ऑप्शन में से एक को चुन सकते हैं
    custom size
    इसमें आप रीसाइकल बिन में स्टोर होने वाले डाटा का maximum size MB में सेट कर सकते हैं। इसके लिए आप इसके सामने दिए हुए बॉक्स में अपनी मर्जी के अनुसार डाटा लिमिट लगा सकते हैं।
    इसके अलावा आपको इसमें एक और ऑप्शन देखने को मिलेगा जिसमें लिखा होगा “Don’t move files to the recycle bin. Remove files immediately when deleted.” यदि आप इस ऑप्शन पर चेक करते हैं तो कोई भी फाइल recycle bin  में नहीं आएगी वो तभी हमेशा के delete हो जाएगी जब आप उसे पहली बार delete करेंगे।
  4. अपनी मर्जी के अनुसार recycle bin में custom size सेट करने के बाद “OK” पर क्लिक करें और आपका लिमिट सेट हो जाएगा।


इन तरीकों से delete किया गया फाइल ही recycle bin में store होगा

आपकी जानकारी के लिए बता दें की सभी तरीकों से delete किया हुआ फाइल recycle bin में store नहीं होगा जैसे की यदि आप shift+del के इस्तेमाल से फाइल को डिलीट करते हैं तो वो हमेशा के लिए मिट जाएगा और recycle bin में नहीं जाएगा।

इसलिए हम आगे जानेंगे की किन तरीकों से delete किये गए file इसमें store होंगे-

  1. सबसे कॉमन तरीका, फाइल पर right click करके उसके बाद मेनू में delete पर क्लिक करना
  2. फाइल को select करने के बाद del यानी delete बटन दबाना
  3. किसी भी फाइल को यदि आप drag (खींचकर) करके उसे recycle bin में drop (छोड़ देना) कर देते हैं तो भी रीसाइकल बिन में स्टोर हो जाएगा.

Windows Recycle Bin Kya Hai? – Mac OS में recycle bin

जिस तरह से windows में इसे recycle bin के नाम से जाना जाता है ठीक उसी तरह mac operating system मे इसे “Trash” के नाम से जाना जाता है। mac में ये option आपको Dock में देखने को मिल जाएगा। dock नीचे दिया गया एक row होता है जिसमें बहुत सारे icon होते हैं।

कहीं-कहीं इसे bin के नाम से जाना जाता है। शुरू में apple के product में इसे wastebasket के नाम से जाना जाता था। 1984 के बाद से mac के सभी operating system में ये trash के नाम से उपलब्ध है।

Trash में वो सभी file या डाटा store हो जाते हैं जिन्हे आप delete करते हैं या drag करके trash में drop करते हैं। ये डाटा हमेशा के लिए trash में उपस्थित रहते हैं जब तक की आप उसे delete नहीं करते या automatic removal के लिए schedule करते हैं।

Trash से file को वापस लाने का तरीका

चाहे आपने अपनी मर्जी से फाइल delete किया हो या गलती से delete हुआ हो उसे वापस लाने के लिए आपको नीचे दिए steps follow करना चाहिए-

  1. सबसे पहले dock में उपलब्ध trash के icon पर क्लिक करें और उसे ओपन करें
  2. अब आप उस file को select कर लें जिसे आप वापस लाना चाहते हैं
  3. अब उस फाइल को drag करके उसे जहां रखना चाहते हैं वहाँ पर drop करके छोड़ दें आपका फाइल वहाँ पर स्टोर हो जाएगा
    अथवा आप फाइल select करने के बाद right click करके “put back” पर क्लिक करें और आपका फाइल वापस अपनी original जगह पर स्टोर हो जाएगा।

Trash को पूरी तरह से empty करना

यदि आप trash को empty करते हैं तो इसमें स्टोर सारा डाटा उड़ जाएगा इसलिए इसे करने से पहले ये सुनिश्चित कर लें की कोई जरूरी फाइल trash में तो नहीं है। तो चलिए जानते हैं की trash को कैसे पूरी तरह से खाली करते हैं।

Trash को पूरी तरह से खाली करने के लिए आप trash icon पर right क्लिक करके empty trash पर क्लिक कर सकते हैं। अथवा आप finder में जाकर empty trash पर click कर सकते हैं और आपका trash पूरी तरह से खाली हो जाएगा। इसके अलावा आप इसके लिए time schedule भी कर सकते हैं और उसी समय पर आपका trash अपने से delete हो जाएगा।



निष्कर्ष:

Windows Recycle Bin Kya Hai? Recycle bin कंप्युटर में एक कचरे के डब्बे की तरह काम करने वाला फ़ोल्डर है जिसमें डिलीट किए गए फाइल आकर स्टोर होते हैं। सभी operating system में इसे अलग-अलग नामों से जाना जाता है। कहीं पर इसे recycle bin तो कहीं trash और wastebasket जैसे नामों से इसे जाना जाता है।

इसमें स्टोर होने वाले डाटा तब तक उसमें पड़े रहते हैं जब तक की आप उसे डिलीट नहीं करते या schedule के जरिए delete नहीं करते। लेकिन यदि आपने recycle bin के लिए limit लगाकर रखा है तो वो लिमिट पूरा होने के बाद पुराने फाइल अपने से delete होने लगेंगे और उसकी जगह नए डिलीट कीए हुए फाइल स्टोर होने लगेंगे।

लेकिन यदि आप किसी फाइल को permanently डिलीट करते हैं तो वो recycle bin में store नहीं होगा वो हमेशा के लिए डिलीट हो जाएगा। रीसाइकल बिन को कभी भी empty करते वक्त इस बात खास ध्यान रखें की वो फिर से वापस नहीं आएगा इसलिए जरूरी फाइल को restore कर लें।

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here